Header Ads

जितेन्द्र भी चाहते हैं गजरौला का विकास

डॉ. यादव का मानना है कि नगर को विकास की दरकार है। लोग मूलभूत सुविधाओं की इच्छा रखते हैं.

समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ. जितेन्द्र यादव भी पालिकाध्यक्ष पद के दावेदार हैं। बशर्ते यह सीट पिछड़ा वर्ग आरक्षित हो। उनका कहना है कि गजरौला केवल उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि देश-विदेश में एक औद्योगिक नगर के नाम पर जाना जाता है लेकिन विकास के नाम पर देखा जाये तो इसकी स्थिति ग्रामीण इलाकों जैसी है तथा देखकर नहीं लगता कि यह कोई शहर है।

जितेन्द्र भी चाहते हैं गजरौला का विकास
डॉ. जितेन्द्र यादव, समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष.

डॉ. यादव का मानना है कि नगर को विकास की दरकार है। यहां के लोग मूलभूत सुविधाओं की इच्छा रखते हैं। परंतु उन्हें बार-बार निराशा का सामना करना पड़ता है। गजरौलावासी जिस नेतृत्व की तलाश में हैं, वैसा नेतृत्व उन्हें अभी तक नहीं मिल पाया। यही कारण है यहां विकास नहीं हो सका।

डॉ. यादव का कहना है कि जनता उनके साथ कदमताल को तैयार हो तो वे एक सुन्दर और सुविधा-संपन्न शहर का निर्माण करने में पूरी तरह सफल होंगे। वे इसके लिए आगे चलने को तैयार हैं। वर्ग, जाति और सम्प्रदाय से ऊपर उठकर हमें विकास के लिए एक साथ आना होगा।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...

गजरौला टाइम्स की ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए अपना इ-मेल दर्ज करें :

Delivered by FeedBurner