Header Ads

नये स्लॉटर हाउस से बढ़ सकता है टकराव

'जब पुराने स्लॉटर हाउस बंद किये गये हैं तो उनसे भी बड़ा स्लॉटर हाउस क्यों बनाया जा रहा है'.

शासन की मंशा भांप प्रशासन ने नगर में चल रहे अवैध स्लॉटर हाउस को जहां बंद करा दिया। वहीं यहां पूर्व विधायक हाजी शब्बन की साझेदारी में चल रहे आधुनिक स्लॉटर हाउस को लोगों के विरोध पर बंद करा दिया गया। उधर इसे वैध बताकर हाजी शब्बन के साथी पुनः चालू करने की कोशिश में हैं।

नये स्लॉटर हाउस से बढ़ सकता है टकराव
जरुर पढ़ें : बछरायूं में अत्याधुनिक स्लॉटर हाउस बनाने की तैयारी 

जबकि पालिकाध्यक्ष अफसर अली ने एक और अत्याधुनिक स्लॉटर हाउस बनवाने को पालिका से राशि मंजूर कराकर बूचड़खाना विरोधियों को खुली चुनौती दे दी है। उनकी मंशा है कि वे पहले से भी बड़ा स्लॉटर हाउस बनाकर विरोधियों को यह जताना चाहते हैं कि उनके दबाव से वे पशु वध नहीं बंद करने वाले।

पालिकाध्यक्ष के इस निर्णय से भाकियू तथा भाजपा कार्यकर्ताओं में कानाफूसी शुरु हो गयी है। जिससे यह संभावना बढ़ गयी है कि पालिका के फैसले के खिलाफ यहां लोग आंदोलित हो सकते हैं। उनका कहना है कि जब पुराने स्लॉटर हाउस बंद किये गये हैं तो दोबारा उनसे भी बड़ा स्लॉटर हाउस क्यों बनाया जा रहा है। इससे लोगों में आपसी टकराव भी बढ़ सकता है। प्रशासन को समस्या बढ़ने से पहले उसके समाधान का बंदोबस्त करना चाहिए।

-टाइम्स न्यूज़ बछरायूं


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...

गजरौला टाइम्स की ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए अपना इ-मेल दर्ज करें :

Delivered by FeedBurner