Header Ads

नौगांवा में नहीं जुड़ना चाहते डींगरा पंचायत के गांव, धनौरा में ही रहने की विधायक से मांग

डींगरा न्याय पंचायत के लोगों ने विधायक राजीव तरारा के सामने अपनी दिक्कत रखी.

नौगांवा सादात भले ही आननफानन में पिछली सपा सरकार ने नयी तहसील बना दी लेकिन अभी भी उसका सीमांकन नहीं किया गया। लोगों को सुविधा प्रदान करने के नाम पर बनायी गयी इस तहसील में कई गांवों को धींगामुश्ती से शामिल कर भारी दुविधा में डालने की कोशिश की जा रही है। कई गांवों के लोग इसीलिए नयी तहसील में शामिल न होने का विरोध कर रहे हैं। इसी कड़ी में धनौरा तहसील को डींगरा पंचायत के गांवों के लोग शामिल हैं। उन्हें प्रशासनिक अधिकारियों ने सपा शासन में नयी तहसील के राजस्व ग्रामों का कोरम पूरा करने के लिए नौगांवा में मिलाने की रुपरेखा तैयार कर ली थी। इसके लिए गांवों के लोगों से पूछा भी नहीं गया तथा यह भी नहीं सोचा गया कि नयी तहसील से जुड़ने पर उनके सामने क्या-क्या मुसीबतें खड़ी हो जायेंगी?

rajeev_tarara_dhanaura_vidhayak

डींगरा न्याय पंचायत के लोगों ने विधायक राजीव तरारा के सामने अपनी दिक्कत रखी तथा उन्हें अवगत कराया कि न्याय पंचायत के सभी गांव धनौरा तहसील में ही रहना चाहते हैं। उन्हें नौगांवा सादात से बचाया जाये। लोगों ने विधायक को उन सभी परेशानियों को सिलसिलेवार बताया, जो नौगांवा में जुड़ने से उनके सामने आयेंगी।

विधायक ने लोगों को भरोसा दिलाया कि वे इसके लिए मुख्यमंत्री से मिलकर कोशिश करेंगे जिससे उनको नयी तहसील में न जुड़ा जाये। विधायक के सामने डींगरा बिजलीघर को चालू कराने की मांग भी रखी गयी थी। उसे भी हल कराने का भरोसा वे किसानों को दे चुके हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...

गजरौला टाइम्स की ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए अपना इ-मेल दर्ज करें :

Delivered by FeedBurner