Header Ads

गंगा का जलस्तर कभी बढ़ रहा है, कभी घट रहा है

तिगरी गंगा के आसपास बसे गांवों के लोग दहशत में हैं. उन्हें बाढ़ का डर सता रहा है.

प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ की स्थिति अभी भी बनी हुई है। करीब 2500 गांव बाढ़ की चपेट में हैं। लगभग 25 लाख लोग इससे प्रभावित हुए हैं।

गजरौला के तिगरी में गंगा का जलस्तर धीरे-धीरे बढ़ रहा है तो कभी घट भी रहा है। आसपास बसे गांवों के लोग दहशत में हैं। हरिद्वार स्थित बैराज से 77 हजार क्युसेक पानी छोड़ने से तिगरी गंगा का जलस्तर 200 गेज पर पहुंच गया था। जलस्तर में उतार-चढ़ाव जारी है।

tigri_ganga_flood

ग्रामीणों का कहना है कि वे काफी भयभीत हैं। उन्हें डर सता रहा है कि यदि जलस्तर और बढ़ा तो पानी उनके लिए मुसीबत खड़ी कर सकता है। इससे उनके घर, खेत और पशुओं को अधिक हानि होगी।

कई गांवों में गंगा का जलस्तर बढ़ने से पानी खेतों में भरा पड़ा है और कटान की स्थिति बनी हुई है। पिछले कुछ समय में पहाड़ों पर बारिश से गंगा के जलस्तर में उतार-चढ़ाव देखने को मिला है।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...

गजरौला टाइम्स की ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए अपना इ-मेल दर्ज करें :

Delivered by FeedBurner