Header Ads

इस बार कम अंतर से होगी जय पराजय

मतदान के समय तक हालात बदल सकते हैं और मुकाबला पहले से ज्यादा रोचक हो सकता है.

पालिकाध्यक्ष पद का चुनाव बहुत ही रोचक मोड़ पर है। भले ही यहां 14 उम्मीदवार मैदान में हैं लेकिन ताज़ा आकलन के मुताबिक प्रमुख मुकाबला पांच उम्मीदवारों में है। सपा प्रमुख लड़ाई से बाहर दिख रही है। जो पांच प्रतिद्वंदी प्रमुख मुकाबले में हैं उनमें भाजपा की अंशु नागपाल, बसपा के जाफर मलिक, रालोद के अनिल गर्ग हैं। इसी के साथ पूर्व चेयरमेन रोहताश शर्मा निर्दल उम्मीदवार होते हुए उपरोक्त तीनों उम्मीदवारों में मजबूती से लड़ रहे हैं जबकि दूसरे निर्दल उम्मीदवार अशोक कश्यप पिछले तीन वर्षों से घर-घर जाकर जनसंपर्क में हैं। उनका दावा है कि उनको भारी जनसमर्थन है जो फिलहाल मौन है तथा समय पर अपना फैसला देगा।

nikay-chunav-2017-gajraula

जिस प्रकार 2005 में सामान्य सीट रहते हुए रोहताश शर्मा, आशुतोष भूषण शर्मा और अनिल मामूली अंतर से आगे-पीछे रहे थे, ठीक उसी प्रकार की स्थिति बनती दिख रही है। उपरोक्त पांचों उम्मीदवार थोड़े-थोड़े अंतर से आगे पीछे चल रहे हैं। जिसका आकलन करना किसी भी प्रकार संभव नहीं है।

वैसे ये सभी लोग मतदान की तारीख करीब आते-आते पूरे जोर लगायेंगे। इसमें जो सबसे अधिक संसाधन और कूटनीतिक बल का प्रयोग करेगा, बाजी मार लेगा। भाजपा उम्मीदवार के पास जहां सत्ता तथा प्रचारक शक्ति सबसे अधिक है वहीं भीतरघात का भी उसे सबसे अधिक खतरा है। रोहताश शर्मा का प्रचार तंत्र इनमें सबसे मजबूत है लेकिन बसपा से ऐन मौके पर निष्कासन से उन्हें नुक्सान हो सकता है। अनिल गर्ग रालोद के सहारे जाट मतदाताओं को अपने पक्ष में करना चाहते हैं लेकिन यह बिरादरी भाजपा को नहीं छोड़ना चाहती।

जरुर पढ़ें : अंशु, रोहताश, अनिल और जाफर में घमासान

यदि अंशु नागपाल, रोहताश शर्मा, अनिल गर्ग तथा अशोक कश्यप कम अंतर से लड़ते रहे तो बसपा उम्मीदवार जाफर मलिक को उसका लाभ मिल सकता है। सपा, कांग्रेस तथा बसपा के अल्पसंख्यक मतदाता जाफर के पक्ष में भाजपा के भय से एकजुट हो रहे हैं। लेकिन दलित वोट बैंक कई जगह बंटने और हरपाल सिंह तथा राजीव तरारा के कारण भाजपा की ओर झुकने से जाफर के लिए खतरनाक स्थिति बन रही है।

मतदान के समय तक हालात बदल सकते हैं। ऐसे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता लेकिन जय-पराजय का अंतर इस बार बहुत अधिक नहीं रहेगा।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...

गजरौला टाइम्स की ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए अपना इ-मेल दर्ज करें :

Delivered by FeedBurner