Header Ads

'सरकारी नीतियां किसान विरोधी’ -चौ. हरपाल सिंह

किसान हितों के नारों के साथ सत्ता में आयी भाजपा को समझ लेना चाहिए कि किसानों को बार-बार धोखा नहीं दिया जा सकता.
harpal-singh-kisan-union-bilari

भारतीय किसान यूनियन (असली) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौ. हरपाल सिंह ने कहा है कि भाजपा सरकार किसानों के शोषण के सारे रिकार्ड तोड़ने पर उतारु है। उन्होंने कहा कि किसान हितों के नारों के साथ सत्ता में आयी भाजपा को समझ लेना चाहिए कि किसानों को बार-बार धोखा नहीं दिया जा सकता। बिजली बिल बढ़ाकर तथा ट्रैक्टरों पर भारी भरकम टैक्स थोपकर सरकार केवल किसानों का ही अहित नहीं कर रही बल्कि वह पूरे देश को नुक्सान पहुंचायेगी। कुल जीडीपी में 17 फीसदी की साझेदारी वाली खेती आज 1-7 फीसदी पर लुढ़क चुकी और सरकार आंखें मूंद कर जो किसान विरोधी नीतियां बना रही है, उससे कृषि प्रधान भारत का कृषि क्षेत्र चौपट हो जायेगा। महाराष्ट्र का विदर्भ भाजपा की कृषि नीतियों की बर्बादी का स्मारक बन चुका है। चौ. सिंह ने कहा कि वे किसानों को एकजुट कर रहे हैं, बल्कि किसानों में स्वस्फूर्त सरकार विरोध उत्पन्न हो रहा है। सरकार को इस बार बड़े आंदोलन के जरिये उसी की भाषा में उत्तर दिया जायेगा।

जरुर पढ़ें : 'किसानों का शोषण बर्दाश्त नहीं किया जायेगा’ -चौ. शूरवीर सिंह

साथ में पढ़ें : बढ़ते बिजली बिल और कृषि समस्याओं से अन्नदाताओं में रोष

-टाइम्स न्यूज़ बिलारी.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...

गजरौला टाइम्स की ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए अपना इ-मेल दर्ज करें :

Delivered by FeedBurner