ब्लाक प्रमुखपति चौ. कामेन्द्र सिंह तथा जिला पंचायत सदस्य चौ. वीरेन्द्र सिंह का कहना है कि केन्द्र सरकार को बिना देर किये अपनी गन्ना तथा चीनी नीति स्पष्ट करते हुए समय से चीनी मिल चलवाने का प्रबंध करना चाहिए। किसानों को भुगतान के नाम पर चीनी मिलों को केन्द्र और राज्स सरकारें कई बार पैकेज दे चुके जिसका किसानों को कोई लाभ नहीं मिला जबकि सारा लाभ अर्जित खुद करने के वावजूद मिल मालिक मनमानी पर उतारु हैं।

दोनों किसान नेताओं का कहना है कि केन्द्र की मोदी सरकार को चुनावों के दौरान किये वादे को अब पूरा करना चाहिए। उन्होंने किसानों को लागत पर पचास फीसदी का लाभ देने का वायदा किया था। इस हिसाब से गन्ने की कीमत कम से कम साढ़े चार सौ रुपये होनी चाहिए। दोनों युवा नेताओं ने सभी फसलों के उचित दाम किसानों को दिलाने की मांग की है।

-टाइम्स न्यूज गजरौला

गजरौला के अन्य समाचार पढ़ें