जुबिलेंट कप गजरौला अमरोहा

गजरौला में आयोजित जुबिलेंट कप को लेकर हर बार की तरह इस बार भी गजरौला सहित पूरे जिले के क्रिकेट प्रेमियों में उत्साह नहीं है। कारण साफ है। असली प्रतिभाओं को मौका मिलता नहीं। सबसे मजेदार है कि जो लोग खिलाड़ी बनाकर अमरोहा इलेविन में भर्ती किये जाते हैं, वे खेलना जानते ही नहीं। तभी चार ओवर से पहले टीम के पांच विकेट गिर गये। कुल 19.5 ओवर में यहां के "खिलाड़ी" केवल 74 रन बना सके।

ऐसा हर बार होता है। अमरोहा इलेविन जो यहां की एकमात्र टीम है पहला मैच हारकर जुबिलेंट कप से बाहर हो जाती है।

टूर्नामेंट से पहले केवल दिखावे के लिये ट्रायल की बात की जाती है। जबकि खिलाड़ियों की भर्ती काबिलियत के आधार पर नहीं, सिफारिश के आधार पर होती है।

कुछ नेता, तो कुछ कंपनी अधिकारियों के जानने वाले जुबिलेंट कप की शोभा बढ़ा रहे हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.