Header Ads

जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर निशाना है नागपाल का

devendra nagpal gajraula jila panchayat election 2015

अमरोहा जिला पंचायत चुनाव काफी दिलचस्प मोड़ पर चल पड़ा है। जैसा कि हमने पिछले दिनों समाचार भी प्रकाशित किया था कि पूर्व सांसद देवेन्द्र नागपाल जिला पंचायत चुनाव में भाग लेंगे। उनका निशाना जिला पंचायत अध्यक्ष पद है। नागपाल जल्दी ही क्षेत्र में लौटकर यह देखेंगे कि उन्हें किस क्षेत्र से लड़ना है। वे अपनी पत्नि अंशु नागपाल को भी चुनावी मैदान में लायेंगे। उन्हें वार्ड दस सबसे बेहतर वार्ड लग रहा है, जहां पहले ही सबसे अधिक उम्मीदवार मैदान में आ चुके जबकि अभी चुनावी प्रोग्राम तय भी नहीं है।

यह वार्ड जाट बाहुल्य है। इसीलिए अबतक जितने भी उम्मीदवार मैदान में आये हैं, या आना चाहते हैं, वे सभी जाट नवयुवक हैं। इनमें चौ. भूपेन्द्र सिंह देवेन्द्र नागपाल के सबसे करीबी जाट नेता भी हैं। वे लंबे समय से तैयारी कर रहे थे तथा वार्ड परिसीमन में नागपाल के प्रयास से भूपेन्द्र की पसंद के गांवों को यहां रखा गया था।

पूर्व सांसद वहां से चुनाव लड़ना चाहते हैं। वैसे उन्होंने पूछने पर यही बताया था कि वे किसी भी वार्ड से चुनाव लड़ सकते हैं। एक-दो दिन मैं फैसला लेंगे। लेकिन भूपेन्द्र का कहना है कि वे उनके लिए अपना वार्ड नहीं छोड़ेंगे, चाहें कुछ भी हो। इससे यही लगता है कि वार्ड 10 से अंशु नागपाल का चुनाव लड़ना भी तय हो चुका।

इस समय वार्ड दस में भूपेन्द्र सिंह के अलावा वेदपाल सिंह, सं. मंजीत सिंह, शुभनीत सिंह आदि कई नवयुवक मैदान में हैं। जबकि पायल चौधरी नामक 23 वर्षीय उच्च शिक्षित अकेली युवती भी मैदान में है। इसमें कोई संदेह नहीं कि अंशु नागपाल के आने से वार्ड 10 का चुनाव दिलचस्प मोड़ लेगा।

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.

जरुर पढ़ें : वार्ड दस में नागपाल और भूपेन्द्र आमने-सामने

जिला पंचायत चुनाव 2015 से सम्बंधित सभी लेख पढ़ें >>


गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.