Header Ads

कई आरक्षण की प्रतीक्षा में, कई प्रचार में जुटे

farooq-kayyum-jafar-picture

सपा अल्पसंख्यक सैल के प्रदेश सचिव उमर फारुख सैफी भी जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ेंगे। उनका कहना है कि वार्ड नौ और बारह में उनका अच्छा प्रभाव है। आरक्षण घोषित होने के बाद वे इन्हीं में से किसी वार्ड से चुनाव लड़ेंगे। उधर युवा समाजसेवी कय्यूम खां वार्ड-11 या 8 से चुनाव लड़ना चाहते हैं। वे भी आरक्षण सूची की प्रतीक्षा में हैं।

इधर जाफर मलिक वार्ड 10 से दावेदारी पेश कर रहे हैं, लेकिन उनका मन पूरी तरह आश्वस्त न होने के कारण वे निर्णय नहीं ले पा रहे जिससे उनकी हालत ऊहापोह में है। वैसे भी वे इस क्षेत्र के खादर स्थित गांवों में ही पैठ रखते हैं।

सपा जिलाध्यक्ष विजयपाल सैनी वार्ड 7 से मैदान में आ रहे हैं। यह क्षेत्र उनके प्रभाव का माना जाता है। यहां बसपा और भाजपा कोई मजबूत उम्मीदवार लाना चाहती है। सैनी कई आरोपों में पहले ही घिरे हैं। ऐसे में सपा के ही कुछ लोग उनका विरोध कर रहे हैं। हाल ही में सैनी बिरादरी के लोगों ने उनके खिलाफ आंदोलन किया था।

वार्ड बीस से युवा उम्मीदवार विजय शर्मा मैदान में हैं। वे अपने वार्ड के गांवों में लगातार जनसंपर्क कर रहे हैं। जिनमें देहरी प्रमुख हैं। शर्मा के मुताबिक उन्हें लोग सुन रहे हैं और उन्हें समर्थन का पूरा भरोसा भी जता रहे हैं।

वार्ड दस में देवेन्द्र नागपाल के समर्थक ग्रामांचलों में संपर्क साध रहे हैं तथा धीरे-धीरे समर्थन जुटाने का प्रयास कर रहे हैं। सुरेन्द्र स्टेट, कुलवंत सिंह, नासिर अली आदि ने कई गांवों का भ्रमण किया तथा अपनी उम्मीदवार अंशु नागपाल के लिए समर्थन मांगा।

जिला पंचायत चुनाव 2015 से जुड़ी सभी ख़बरें पढ़ें >>

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.