Header Ads

अमरोहा के लिए आफत की बारिश

rain water collected in a house

बारिश ने अमरोहा जिले में लोगों के लिए परेशानी पैदा कर दी है। कई जगह दीवार गिरने से लोग मारे गए हैं। जगह-जगह जलभराव और अन्य समस्याओं से लोग जूझ रहे हैं। प्रशासन के दावे सबके सामने नजर आ रहे हैं। घरों में पानी घुस गया है।

नाले उफन कर रास्तों पर आ गये हैं। उनका गंदा पानी और कीचड़-गारा तैर रहा है। अमरोहा के मोहल्लों में गलियां पूरी तरह डूब गयी हैं। जहां देखो वहां पानी ही पानी। ऐसे रास्तों से निकला मुश्किल हो गया है। कई गलियों से निकलना खतरे को दावत देने के बराबर है।

पिछले कई दिनों से बरसात हो रही है। जर्जर और पुराने हो चुके भवन खतरे में हैं।

डिडौली के नीलीखेड़ी गांव में एक 82 वर्षीय बुजुर्ग की दीवार गिरने से मौत हो गयी। वे काफी देर तक मलबे में दबे रहे। बाद में उन्हें गंभीर अवस्था में मुरादाबाद साईं अस्पताल रैफर किया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

सैदनगली के गांव ककरुआ में 40 साल के राजपाल की दीवार गिरने से मौत हो गयी। वह एक मकान के करीब पशुओं के लिए चारा लेने गया था। 

अमरोहा के मोहल्ला चिल्ला में मोहम्मद अहमद के घर की दीवार गिर गयी। गनीमत यह रही कि वहां कोई नहीं था।

गांव चकछावनी में रतन सिंह के मकान पर यूकालिप्टस का पेड़ गिरने से उसके पांच पशु जख्मी हो गये। साथ ही मकान का एक हिस्सा भी क्षतिग्रस्त हो गया।

मंडी धनौरा, हसनपुर, गजरौला, जोया, नौगांवा सादात आदि क्षेत्रों में बरसात ने जीना मुहाल कर दिया है। यह कहना गलत नहीं होगा कि कुछ दिन की बरसात जिले के लिए आफत लेकर आयी है।

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.