Header Ads

सरपंच कभी भी पहुंच सकते हैं सलाखों के पीछे

सरपंच सकते हैं सलाखों के पीछे

राजस्थान में कई सौ सरपंचों पर तलवार लटक रही है। वे कभी भी सलाखों के पीछे जा सकते हैं। उनके खिलाफ फर्जी शैक्षणिक योग्यता से चुनाव लड़ने की वजह से एफआइआर दर्ज हो चुकी है।

पंचायतों के चुनाव में इस बार शर्त थी कि आठवीं पास ही सरपंच का चुनाव लड़ सकता है। बहुत से लोग चुनाव लड़ने के इच्छुक थे लेकिन उनके पास उतनी योग्यता नहीं थी। इसलिए उन्होंने फर्जी तरीके से आठवीं पास के कागज तैयार कराये।

राज्य में 746 सरपंचों के खिलाफ फर्जी दस्तावेज से चुनाव लड़ने का आरोप लगा। जबकि 465 के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है। इनके खिलाफ आइपीसी की धारा 420, 466, 467 के तहत मुकदमा हुआ है।

पंचायतीराज विभाग गहनता से पड़ताल कर रहा है।

अबतक 23 सरपंच के खिलाफ कोर्ट में चालान भी प्रस्तुत किया गया है। उन्हें निलंबित किया जा चुका है और वे सलाखों की हवा भी खा रहे हैं।

-टाइम्स न्यूज़.

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.