Header Ads

वार्ड 11 के सजातीय दिग्गजों में त्रिकोणीय मुकाबला

zila-panchayat-election-2015

जिला पंचायत के वार्ड 11 में इस समय केवल तीन उम्मीदवार मैदान में हैं तथा तीनों ही पूरी मजबूती के साथ चुनावी अभियान में जुटे हैं। तीनों में एक समानता यह भी है कि वे एक ही बिरादरी से हैं।

भारापुर निवासी वीरेन्द्र सिंह जिला पंचायत सदस्य हैं। मृदुभाषी हैं। उन्होंने पिछली बार वार्ड  नौ से विजय हासिल की थी। नये परिसीमन में वे वार्ड 11 से मैदान में हैं। वे लगातार जनसंपर्क में हैं। उनका दावा है कि लोग उन्हें भरपूर समर्थन को तैयार बैठे हैं। उनकी स्थिति बहुत बेहतर है।

जोगीपुरा निवासी कामेन्द्र सिंह ब्लॉक प्रमुख मंजू चौधरी के पति हैं। वे भी वीरेन्द्र सिंह की तरह मृदुभाषी और मिलनसार हैं। उन्होंने भी लोगों में जनसंपर्क तेज कर दिया है। उनका भी दावा है कि उन्हें सभी वर्गों का समर्थन मिल रहा है जिससे उनकी विजय को कोई नहीं रोक सकता।

फत्तेहपुर निवासी निरंजन सिंह पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष इंदिरावती और चौ. बलवीर सिंह के बेटे हैं। वे गांवों का युद्धस्तर पर अपनी टीम के साथ भ्रमण कर रहे हैं। उनका दावा है कि उन्हें अपने माता-पिता के संबंधों और जनता की सेवाओं में किये सराहनीय कामों का लाभ मिलेगा। इसलिए मेरी विजय सुनिश्चित है।

अभी दंगल शुरु है जो समापन तक कई रंग बदलेगा। मैदान में एक-दो और भी चेहरे आने वाले हैं। सपा नेता उमर फारुख सैफी और जाफर मलिक आरक्षण की प्रतीक्षा में हैं। वे उसके बाद फैसला लेंगे। उसके बाद हो सकता है समीकरणों में कोई उतार-चढ़ाव आये।

जिला पंचायत चुनाव 2015 से जुड़ी सभी ख़बरें पढ़ें >>

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.