Header Ads

सपा बसपा में कांटे की टक्कर, भाजपा संघर्ष में

सपा-बसपा-में-कांटे-की-टक्कर-भाजपा-संघर्ष-में

जिला पंचायत के वार्ड दस में बसपा उम्मीदवार सरिता चौधरी और सपा उम्मीदवार अनीता चौधरी का चुनाव प्रचार जोरों पर है। यहां भाजपा सहित तीनों दलों की उम्मीदवार त्रिकोणात्मक मुकाबले में हैं। फिर भी असली टक्कर बसपा और सपा में ही है।

सपा उम्मीदवार की चुनावी अभियान की बागडोर वेदपाल सिंह के हाथ में है जबकि बसपा की कमान भूपेन्द्र सिंह संभाले हुए हैं। दोनों ही अपने समर्थकों के साथ पूरे जोर-शोर से जनसंपर्क में हैं तथा अपनी-अपनी जीत के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहे।

भूपेन्द्र सिंह यहां सबसे पहले लोगों को अपने पक्ष में जोड़ चुके थे। उनके लंबे समय से लोगों के बीच पहुंचने का उन्हें लाभ मिला तथा उन्हें जबान दे चुके लोग अब पीछे नहीं हटना चाहते। यह अलग बात है कि उन्हें मजबूरी में सपा से पाला बदलकर बसपा का दामन थामना पड़ा। वे अपनी बात लोगों को समझाने में सफल रहे हैं। उनका दावा है कि उनकी उम्मीदवार भारी मतों से बढ़त लेकर बसपा की शक्ति बढ़ायेगी।

जिला पंचायत चुनाव 2015 से जुड़ी सभी ख़बरें पढ़ें >>

उधर वेदपाल सिंह भी पूरे दमखम से अपनी पत्नि की जीत के लिए प्रचार में जुटे हैं। उन्हें उम्मीद है कि सत्ता पक्ष के कारण वे मजबूत हैं। साथ ही प्रचार और संपर्क से लोगों का दिल जीत चुके इसलिए बहुमत उनकी ओर है। वेदपाल सिंह का दावा है कि उनकी पत्नि भारी बहुमत से जिला पंचायत में पहुंचेंगी।

भाजपा उम्मीदवार भी अपनी जीत का दावा कर रही हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.