Header Ads

भाजपा के लिए राजनीति का अजीब मौसम

weather-of-politics-in-bjp

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि भारत की अर्थव्यवस्था बहुत चुस्त है। भारत वैश्विक मंदी के बावजूद दुनिया के आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है। उन्होंने भरोसा जताया है कि आगे यह ओर बेहतर होगा।

एक इंटरव्यू में जेटली ने कांग्रेस पर निशाना साधा। उनके अनुसार कांग्रेस के कारण जीएसटी पास नहीं हो सका। जबकि इससे देश की अर्थव्यवस्था में सुधार आ सकता था। इसके लिए कांग्रेस दोषी है।

उनका कहना था कि कई क्षेत्र ऐसे हैं जहां सरकार को तेजी से काम करना होगा। वहां गति उस तरह की नहीं है। लेकिन इतना जरुर हुआ है कि इससे भारत को आर्थिक तौर पर नुकसान नहीं हुआ है। गति स्थिर भी है, लेकिन नीचे नहीं गयी है। हम लगातार प्रगति कर रहे हैं।

साल की समाप्ति पर पीछे मुड़कर देखने पर जेटली को संतोष मिलता है। देश की नींव मजबूत है।

भाजपा की तरफ से कांग्रेस को कोसना लाजिमी है। उनके मुताबिक कांग्रेस बाधा डाल रही है ताकि विकास की गति को रोका जाये।

ऐसा भी लगता है कि दोनों पार्टियों में श्रेय लेने की होड़ है। उसमें कौन किस पर हावी होता है यह देखने वाली बात होगी।

ब्लॉग पढ़ें : चीन का भरोसा भारत के भरोसे से खरा नहीं

अभी तक तो ऐसा लगता है जैसे कम ताकत वाली और साल के शुरु में कमजोर कही जाने वाली कांग्रेस मजबूत कही जाने वाली भाजपा पर हावी होती जा रही है।

जेटली तो पहले ही आरोपों में फंसे हुए हैं। उनकी पार्टी के सांसद कीर्ति आजाद उनपर सीधा आरोप लगा देते हैं। वे उससे बचने की कोशिश कर रहे हैं। फिर अचानक अरविन्द केजरीवाल पर मानहानि का मुकदमा हो जाता है और कीर्ति भाजपा से बाहर कर दिये जाते हैं।

राजनीति का यह मौसम भाजपा के लिए अजीब बनता जा रहा है। उसे हर मोड़ पर सावधान रहना होगा।

-अनुज शर्मा.
 (ये लेखक के निजि विचार हैं) 

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.