Header Ads

बड़े हादसों का इंतजार है बिजली वालों को?

बड़े-हादसों-का-इंतजार-है-बिजली-वालों-को?

चौहानपुरी में बिजली का पोल गिरने से हुई मौत, बिजली विभाग के लिए कोई सबक नहीं सिद्ध होने वाली। इस महकमे के अधिकारियों को अभी इससे भी भयंकर हादसों का इंतजार है। नगर के कई इलाकों में बहुत ही खतरनाक हालत में बिजली के खम्भे और ट्रांसफॉर्मर लगे हैं। बार-बार हादसे यहां होते हैं। कोई मरो या जीवन भर के लिए विकलांग हो जाये, इससे विभाग के अधिकारियों का कोई लेना-देना नहीं।

थाना चौक के निकट पिछले दिनों डा. भगतराम के सामने स्थित आधा दर्जन से ज्यादा दुकानों में लाखों का सामान बिजली लाईन की गड़बड़ी से जल गया। चार लोगों का झुलसने से लंबा इलाज चला। जिसमें एक व्यक्ति बैसाखी के सहारे चलने को मजबूर हैं। मजदेार बात यह है कि इस घटना से एक सप्ताह पूर्व ही घटना स्थल के निकट बसने वाले लोगों ने आपस में इकट्ठा करके बिजली वालों को लाईन को दुरुस्त के लिए पर्याप्त धन भी दिया था।

वार्ड-10 के मोहल्ले विजय नगर में सुन्दर सिंह भडाना के मकान की खूंट पर एक पोल नाली में ही खड़ा कर दिया। इसपर दो भारी केबिलों का भार है। जिससे यह सड़क की ओर मुड़ गया है। बंदर आयेदिन केबिल पर झूलते हैं तथा पोल लचकता है। सीमेंट का यह पोल कभी धराशायी हो सकता है। यहां तिराहा है और पैदल तथा वाहनों का आवागमन हर समय रहता है। यदि यह गिर पड़ा तो चौहानपुरी से भी बड़ा हादसा हो सकता है। वहां तो तार विहीन पोल एक जान ले गया, जबकि यह एक ओर को भारी बोझ से दबता जा रहा है। बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता और उनके दर्जनों सहायकों के कार्यालय भी इस खम्भे से चन्द कदमों की दूरी पर है और पालिका अध्यक्ष का आवास भी यहां से साफ झलकता है। फिर भी यह खतरनाक पोल किसी को दिखाई नहीं देता। नगर के कई स्थानों पर सड़क के किनारे जमीन पर रखे ट्रांसफॉर्मर और भी खतरनाक है। कई पशु इनके आसपास करंट से मर चुके।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.