Header Ads

आजाद बागी क्या हुए केस में उलझ गये?

kirti-azad-in-new-case-filed-by-cricketer-himmat-singh-father-satvir-singh

कीर्ति आजाद बागी क्या हुए उन्हें निलंबित किया गया। अब उनपर मानहानि का एक मुकदमा दायर किया गया है। वे भाजपा में नहीं हैं और पूर्व क्रिकेटर हैं।

डीडीसीए के खिलाफ बोलना आजाद को महंगा पड़ा। एक बार को ऐसा लगा जैसे पूरी भाजपा से उन्होंने दुश्मनी मोल ले ली। पार्टी हालांकि शांति से सब देखती रही। यहां तक की उन्हें आरोप लगाने का भी पूरा वक्त दिया गया।

case-in-patiala-house-court-by-cricketer-himmat-singh-on-kirti-azad

जब वित्त मंत्री अरुण जेटली पर उन्होंने आरोपों की बौछार कर दी तो भाजपा को लगा इससे पार्टी की छवि पर दाग लग सकता है। ऐसा नहीं कि आजाद के आरोपों में सच्चाई रत्ती भर नहीं थी, बल्कि वे यहां तक दावा कर रहे थे कि इससे सभी बेनकाब हो जायेंगे। वो अलग बात है कि उनके द्वारा दिखाई गयी विडियो क्लिप को उतना गंभीर नहीं लिया गया।

वे अपना अभियान अभी थामने वाले नहीं है। लेकिन क्रिकेटर हिम्मत सिंह के पिता तेजवीर सिंह के मुकदमे से मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

कीर्ति आजाद ने डीडीसीए के भ्रष्टाचार का जिक्र किया था। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि क्रिकेटर हिम्मत सिंह का सलेक्शन 25 लाख की मोटी रकम देकर हुआ था। जब उन्होंने रिश्वत दी तो वे टीम में शामिल कर लिये गये।

हिम्मत सिंह को रणजी टीम में शामिल किया गया था।

हिम्मत के पिता ने पूर्व खिलाड़ी विशन सिंह बेदी, सुरिन्दर खन्ना और समीर बहादुर को भी लपेटे में लिया है। वे भी आरोपी बनाये गये हैं।

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में 4 जनवरी को इस मामले की सुनवाई होगी।

-टाइम्स न्यूज नई दिल्ली.

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.