Header Ads

'चेयरमेन को बदनाम करने की साजिश'

sanjay-agarwal-sabhasad-of-gajraula

नगर पालिका परिषद के सभासद संजय अग्रवाल ने कहा है कि वे अपने नगर के दलितों के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। उन्होंने आसरा भूमि विवाद के लिए इ.ओ. को दोषी ठहराते हुए कहा कि इ.ओ. ने इसमें लाखों का घोटाला किया है जिसे उन्होंने यह कहकर कि सारे पैसे मैंने थोड़े ही लिए हैं, कहकर स्वयं ही पुष्टि कर दी है।

अग्रवाल ने इस प्रकरण से चेयरमेन को अलग मानते हुए कहा कि उनके विरोधी उनके खिलाफ दुष्प्रचार कर रहे हैं ताकि दलितों में उनकी छवि खराब हो जाये और आगामी चुनाव में उन्हें नुकसान पहुंचाय जा सके।

अग्रवाल ने दोहराया कि नगर के एक गरीब दलित के साथ अन्याय होता है, उसके पेट पर लात मारी जाती है तो वे खामोश बैठने वाले नहीं। सभासद अग्रवाल ने यह भी माना कि 13 वर्षों से यहीं जमा रहने का कारण है कि इ.ओ. ने यहां अवैध कमाई का नेटवर्क और टीम तैयार कर ली है। वे अन्याय के खिलाफ लड़ाई जारी रखेंगे। उन्होंने इ.ओ. के स्थानांतरण की मांग भी की।

सम्बंधित ख़बरें : 
आसरा विवाद बना स्थानीय राजनीति का आसरा
इ.ओ. ने बोर्ड की सहमति के बिना भूखंड आवंटित कर दिया
'चेयरमेन और इ.ओ. बेच रहे पालिका की संपत्ति'
कुछ तो है, जो गजरौला नहीं छोड़ना चाहते कामिल
मुन्ना आकिल का चुनाव खर्च भी पाशा ही उठाते हैं

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.

गजरौला टाइम्स के ताज़ा अपडेट प्राप्त करने के लिए हमारे फेसबुक पेज से जुड़ें.