Header Ads

फर्जी सर्टिफिकेट से कर रहे थे नौकरी, अमरोहा के चार शिक्षकों की सेवा समाप्त

फर्जी सर्टिफिकेट से कर रहे थे नौकरी, अमरोहा के चार शिक्षकों की सेवा समाप्त

माध्यमिक शिक्षा विभाग में शैक्षिक प्रमाण पत्रों में फर्जीवाड़े से उसकी कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं

माध्यमिक शिक्षा विभाग के राजकीय विद्यालयों में चार सहायक अध्यापकों के फर्जी सर्टिफिकेट पाये गये। उनकी सेवा समाप्त कर दी गयी है। उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

इससे शिक्षकों की तैनाती के समय हुए फर्जीवाड़े की आशंका जताई जा रही है। यह भी देखा जा रहा है कि कहीं फर्जी सर्टिफिकेट से दूसरे शिक्षकों ने भी तो नौकरी हासिल नहीं की।

पढ़ें : अभी और नाम आने बाकी हैं

माध्यमिक शिक्षा विभाग में शैक्षिक प्रमाण पत्रों में फर्जीवाड़े से उसकी कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं। पुरानी नियुक्तियों में भी कई मामले सामने आये हैं।

हालांकि नये नियुक्त हुए शिक्षकों की सत्यापन रिपोर्ट जल्द आने वाली है। शिक्षा विभाग में खलबली मची हुई है। माना जा रहा है कि रिपोर्ट के बाद कई शिक्षक इसमें फंस सकते हैं।

जो चार शिक्षक फर्जीवाड़े में पाये गये हैं उनकी नियुक्ति कुछ महीने पहले हुई थी।

ये हैं फर्जी सर्टिफिकेट से नियुक्ति पाने वाले शिक्षक :

1. ब्रजेश पाल (सहायक अध्यापक खुंगावली राजकीय हाईस्कूल)
2. सतीश पाल (सहायक अध्यापक राजकीय हाईस्कूल ढ्योटी)
3. पंकज कुमार (सहायक अध्यापक राजकीय हाईस्कूल हसनपुर कटिया)
4. राजेश कुमार (सहायक अध्यापक राजकीय इंटर कालेज मिट्ठेपुर)

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम अमरोहा.