Header Ads

केजरीवाल के स्याही कांड के बाद सिसोदिया को 'हत्या’ की आशंका है

केजरीवाल के स्याही कांड के बाद सिसोदिया को 'हत्या’ की आशंका है

दिल्ली के मुख्यमंत्री पर स्याही फेंकने के बाद युवती का जोश कम नहीं हुआ था। वह आवेश भी नजर आ रही थी। ऐसा लगता था कि उसकी उग्रता और बढ़ सकती थी। उसने सीएनजी सर्टिफिकेट में घोटाले का आरोप लगाया था।

अरविन्द केजरीवाल सम-विषम (ऑड-ईवन) फॉर्मूला सफल होने के बाद जनता का शुक्रिया कहने के लिए एक कार्यक्रम में थे तभी उनपर स्याही फेंकने की कोशिश की गयी। स्याही के कुछ छींटे केजरीवाल पर जरुर आ गये थे जिसे बाद में उन्होंने रुमाल से पोंछ लिया था।

युवती ने अपना नाम भावना अरोड़ा बताया। वह खुद को आम आदमी सेना से जुड़ा बता रही थी। उसने कहा कि वह पंजाब की प्रभारी है। उसने यह भी कहा कि सीएनजी सर्टिफिकेट में घोटाला हुआ है।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि यह भाजपा की साजिश है। केजरीवाल की हत्या भी करवायी जा सकती है।

उन्होंने दिल्ली पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किये। कहा कि दिल्ली पुलिस इसमें शामिल हो सकती है।

केजरीवाल पर पहले भी स्याही फेंकी गयी है। 2013 में दिल्ली में उनपर स्याही फेंके जाने की घटना हुई थी। वहीं वाराणसी में मार्च 2014 में ऐसा एक बाकया हुआ था।

'भाजपा के कार्यकर्ता साजिश में जुटे हैं'

आम आदमी पार्टी की ओर से हर बार ऐसे मामलों में भारतीय जनता पार्टी का नाम लिया जाता है। उनकी बातों पर यकीन किया जाये तो ऐसा लगता है कि भाजपा के कार्यकर्ता उनके खिलाफ साजिश में जुटे हैं। वे उनपर हमले करते रहते हैं।

दिल्ली पुलिस पर तो आम आदमी पार्टी ने पहले से ही सवाल उठाये हैं। उनका कहना है कि पुलिस को दिल्ली सरकार के अधीन कर देना चाहिए। इसके लिए पहले दिल्ली को संपूर्ण राज्य का दर्जा मिलना चाहिए। तभी संभव हो सकता है कि यहां की कानून व्यवस्था को ठीक किया जा सके।

केन्द्र सरकार की मंशा पर आम आदमी पार्टी ने कहा है कि वह नहीं चाहती कि दिल्ली की ताकत हमारे हाथ में आये।

ताजा स्याही कांड के बाद फिर लगने लगा है कि केजरीवाल को सार्वजनिक तौर पर शर्मिन्दा करने का कार्यक्रम आगे भी जारी रहने वाला है। इसके लिए उन्हें अपनी सुरक्षा को और मजबूत करना होगा।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम के लिए एम.एस. चाहल.