Header Ads

मुफ्ती मोहम्मद सईद का निधन : उनके बारे में 6 खास बातें

मुफ्ती+मोहम्मद+सईद+का+निधन+उनके+बारे+में+6+खास+बातें

जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता मुफ्ती मोहम्मद सईद का 80 साल की उम्र में निधन हो गया। वे पिछले पन्द्रह दिनों से दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती थे। वहीं उन्होंने अंतिम सांस ली। सईद की हालत बिगड़ने पर उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था।

उनके निधन के बाद उनकी बेटी महबूबा मुफ्ती उनका स्थान लेंगी इसकी चर्चा तेज होती जा रही है।

मुफ्ती मोहम्मद सईद का जन्म 12 जनवरी 1936 को कश्मीर के अनंतनाग में हुआ था।

jammu kashmir chief minister mufti mohammad saeed with pm narendra modi

आइये जानें उनके बारे में कुछ खास बातें :

1. मुफ्ती मोहम्मद सईद को कांग्रेस में लाने का श्रेय तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को जाता है। जिनके कहने पर वे कांग्रेस पार्टी में आये और लंबे वक्त तक रहे। अस्सी के दशक में वे कांग्रेस छोड़ गये और जनता दल में शामिल हुए थे।

2. मुफ्ती मोहम्मद सईद भारत के पहले मुस्लिम गृहमंत्री थे। उस समय वे जनता दल की सरकार में थे।

3. उनके गृहमंत्री रहते हुए उनकी बेटी रुबिया को जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के लोगों ने अगवा किया था। उसके बाद पांच विद्रोहियों को छोड़ दिया गया था। मुफ्ती पर आरोप लगा था कि उन्होंने चरमपंथियों की रिहाई के लिए यह नाटक रचा था। उनकी बेटी रुबिया ने कहा था कि अपहरणकर्ताओं ने उनकी खूब खातिरदारी की थी।

4. 28 जुलाई 1999 को मुफ्ती मोहम्मद सईद ने पीडीपी(पीपुल डेमोक्रेटिक पार्टी) का गठन किया। उसके बाद उनकी लोकप्रियता बढ़ गयी थी।

5. जम्मू कश्मीर के वे दो बार मुख्यमंत्री बने। 2014 के चुनाव में पीडीपी को 28 सीटें हासिल हुईं। विधानसभा में कुल सीटें 87 हैं।

6. मुफ्ती मोहम्मद सईद ने भारतीय जनता पार्टी से गठबंधन कर जम्मू-कश्मीर में सरकार बनायी जिसपर विपक्षी दलों ने सवाल भी खड़े किये। यह उनके लिए किसी जोखिम से कम नहीं था।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम.