Header Ads

नमामि गंगा योजना से उपेक्षित तिगरी का भी भाग्य बदलेगा

नमामि गंगा योजना से उपेक्षित तिगरी का भी भाग्य बदलेगा

केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने नमामि गंगा योजना का शुभारंभ करके तिगरीधाम के उद्धार का रास्ता भी खोल दिया है। ब्रजघाट से गढ़ तक गंगा नदी के दोनों तटों को पक्का करके उनका सौन्दर्यीयकरण किया जाना है। इससे तिगरी जैसे उपेक्षित तीर्थ गांव का नक्शा बदलना स्वाभाविक है।

बकौल उमा भारती एक माह में की काम शुरु हो जायेगा। यदि उनकी बात पर भरोसा किया जाये तो गंगा के निकटवर्ती दोनों ओर के दर्जनों गांवों के लोगों को इसका लाभ होगा।

tigri ganga image

तिगरी एक प्राचीन तीर्थ स्थल और लाखों श्रद्धालुओं का श्रद्धा केन्द्र होने के बावजूद उपेक्षित रहा है।

उत्तर भारत का विशाल गंगा मेला, मिनी कुम्भ की तर्ज पर हर वर्ष लगता है। फिर भी यहां पक्के घाट तक स्नान के लिए नहीं बने हैं।

नमामि गंगा में ब्रजघाट और गढ़मुक्तेश्वर तक गंगा का तटवर्ती सौन्दर्यीयकरण निश्चित रुप से तिगरी का भाग्य बदलने में भी सफल रहेगा।

इससे यहां के बेरोजगार लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होंगे।

बशर्ते यह सरकारी योजना बिना किसी बाधा या राजनीति का शिकार हुए सही तरह समय से जमीनी हकीकत बने।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.