Header Ads

सेल्फी से मौतों में भारत ने रिकॉर्ड बनाया, दुनिया में आधी मौतें भारत में

सेल्फी से मौतों में भारत ने रिकॉर्ड बनाया, दुनिया में आधी मौतें भारत में

सेल्फी से मौतों के मामले चौंकाने वाले हैं। भारत में सेल्फी से दुनिया में सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। लापरवाही के कारण लोगों को पता ही नहीं चला और वे मौत के आगोश में समा गये।

खबरों के मुताबिक 2015 में पूरी दुनिया में जितनी मौतें सेल्फी लेने के कारण हुई हैं, उनमें पचास प्रतिशत मौतें अकेले भारत में हुई हैं। इससे साफ हो जाता है कि भारत में सबसे अधिक लोग मारे गये हैं। कुल 27 मौतों का आंकड़ा सामने आया है।

सेल्फी के चक्कर में कुछ हादसों पर नजर :

सेल्फी के चक्कर में कुछ हादसों पर नजर :

1. मुंबई में सेल्फी के कारण सबसे ताजा हादसा हुआ है। अधिक दिन नहीं हुए कि एक लड़की समुन्दर में सेल्फी लेने के कारण पानी में डूब गयी। उसकी मौत हो गयी थी। मुंबई में सेल्फी की वजह से कई हादसे हो चुके हैं।
2. नाव में सेल्फी लेते समय लोग पानी में गिर गये और हादसे में उनकी जान गयी या वे बाल-बाल बचे।
3. चलती रेलगाड़ी में सेल्फी के कारण मौत के मामले भी सामने आये हैं।
4. पटरियों पर सेल्फी के चक्कर में कई लोग मारे जा चुके हैं। उन्हें पता ही नहीं चला कि रेलगाड़ी आ गयी और वे हादसे का शिकार हो गये।
5. घरों की छतों या ऊंचे स्थानों पर खड़े होकर सेल्फी ने बहुत को दुनिया से अलविदा करा दिया या उन्हें आजीवन के लिए विकलांग करा दिया।

मुंबई में नो सेल्फी जोन घोषित

मुंबई पुलिस ने कई स्थानों को नो सेल्फी जोन घोषित कर दिया है। ऐसे इलाकों की संख्या एक दर्जन से ज्यादा बतायी गयी है। आने वाले समय में ऐसे स्थानों पर बोर्ड आदि लगाये जायेंगे जिनसे पता चल सकेगा कि वहां सेल्फी नहीं लेनी वरना खतरा हो सकता है।

पिछले साल कुंभ के दौरान भी कई जगहों पर सेल्फी लेने पर मनाही थी।

जानकारों का मानना है कि सेल्फी लेने में कोई बुराई नहीं हैं, बशर्ते जगह और समय का चुनाव सही होना चाहिए।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम के लिए एम.एस. चाहल.