Header Ads

अमरोहा के किसानों ने कहा कि अखिलेश सरकार का बजट किसान के लिए कुछ खास नहीं

अमरोहा-के-किसान

उत्तर प्रदेश सरकार के बजट को लेकर अमरोहा के किसानों में कोई उत्साह नहीं है। उनका कहना है कि अखिलेश सरकार के इस कार्यकाल के अंतिम बजट में किसानों के लिए कुछ खास नहीं किया गया है।

उन्होंने कहा कि भले ही अखिलेश यादव सरकार किसानों के मुद्दे पर अपनी पीठ खुद ही ठोकती रही, मगर बजट से किसानों को रत्ती भर लाभ नहीं मिलने वाला।

भारतीय किसान यूनियन ने बजट पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है। भाकियू अराजनैतिक असली के जिलाध्यक्ष महावीर सिंह ने कहा है कि सरकार ने बजट से साबित कर दिया है वह किसानों के लिए बिल्कुल भी गंभीर नहीं है। उसने यह बजट केवल बुंदेलखंड के किसानों के हित में बनाया है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसानों का ध्यान इस सरकार को है ही नहीं।

उन्होंने आगे कहा कि किसानों की समस्यायें जस की तस हैं। उन्हें राहत मिलती नहीं दिख रही। वे बुरी तरह से घिरे हुए हैं। पैसे की तंगी के कारण हमारे किसानों की हालत दयनीय हो गयी है। किसानों को आत्महत्या तक को मजबूर होना पड़ा है।

भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष उम्मेद सिंह का कहना था कि उत्तर प्रदेश की सरकार का यह बजट उद्योग जगत को ध्यान में रखकर बनाया गया है। ऐसा लगता है जैसे प्रदेश की सरकार उद्योगपतियों की कठपुतली की तरह काम रही है। यहां किसानों की ओर किसी का ध्यान ही नहीं है। हर जगह उद्योगों की बात की जा रही है। जबकि उद्योग बिना किसानों के पनप नहीं सकते। किसानों की जरुरतों पर सरकार बिल्कुल भी गौर नहीं कर रही है।

इनके अलावा कई किसानों का यह भी कहना है कि सरकार ने एक बार किसानों से मुंह मोड़ने की कोशिश की है। जो भी वादे किये हैं उन्हें हवाई साबित होने की उम्मीद अधिक लग रही है।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम अमरोहा.