Header Ads

ब्राह्मण समाज की बैठक में मारुत प्रभाकर ने कहा : 'ब्राह्मणों की एकजुटता समय की मांग’

marut-prabhakar-gajraula
ब्राह्मण समाज की बैठक में एकजुटता, मर्यादा पालन और राष्ट्रीय एकता के लिए काम करने का आहवान किया गया। टीचर कालोनी में पं. राकेश शर्मा के आवास पर आयोजित इस बैठक में ब्राह्मण समाज के जागरुक विद्वान ब्राह्मण अच्छी तादाद में मौजूद थे।

पं. मारुत प्रभाकर ने इस मौके पर मौजूद लोगों से आग्रह किया कि हम सभी को संगठन की मजबूती पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए। उन्होंने इस बार परशुराम जयंती पर विशेष कार्यक्रम आयोजित करने का सुझाव देते हुए भगवान परशुराम की शानदार शोभायात्रा निकालने की राय दी। साथ ही सभी ब्राह्मण बंधुओं से इसके लिए बढ़चढ़कर सहयोग की अपेक्षा की। उन्होंने दूसरे नगरों का हवाला देते हुए कहा कि यहां भी सभी ब्राह्मणों को एक मंच पर आकर आपसी एकता का परिचय देना होगा। उन्होंने परशुराम जयंती पर भव्य आयोजन के लिए अभी से तैयारी में जुटने को सभी का आहवान किया।

पूर्व प्रधानाचार्य सुरेन्द्र मोहन शर्मा ने संगठन के एकीकरण पर बल देते हुए कहा कि भावी पीढ़ी की तरक्की के लिए हम सभी को आपसी सदभाव का परिचय देना होगा।

पूर्व प्रधानाचार्य हरिदत्त शास्त्री ने कहा कि ब्राह्मणों को मर्यादाओं का पालन करते हुए संस्कारित जीवन जीने का पालन करना चाहिए। बच्चों को बेहतर शिक्षा के साथ-साथ अच्छे संस्कारों का भी पालन कराने पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए जिससे वे समाज को आगे ले जा सकें।

जयप्रकाश शर्मा ने इस बात पर चिंता जाहिर की कि संपूर्ण समाज को शिक्षा प्रदान करने वाला ब्राह्मण समाज शिक्षा में पिछड़ता जा रहा है। उन्होंने जोर देकर कहा कि हमें अपने बच्चों को अच्छी से अच्छी शिक्षा दिलाने में जी जान से जुटना होगा।

पं. लाकेश शर्मा, पं. अजय शर्मा, पं. महामानव पाठक तथा पं. देवेश शर्मा ने भी विचार व्यक्त किये।

इस मौके पर नवीन दत्त शर्मा, डा. शिवशंकर शर्मा, प्रमोद शर्मा, गुड्डू शर्मा, राजा शर्मा, अमित मिश्र, योगेन्द्र शर्मा, मदन शर्मा, देवेन्द्र शर्मा, और अजय मिश्रा समेत अनेक ब्राह्मण बंधु मौजूद थे।

पं. महेश कुमार शर्मा के संयोजनकत्व में हुए इस आयोजन की  अध्यक्षता पं. योगेन्द्र प्रसाद शर्मा और संचालन पं. महेश कुमार शर्मा ने किया।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.