Header Ads

दीप्ति को अगवा करने वाला देवेन्द्र अब लव स्टोरी लिखना चाहता है, हिटलर और चंगेज खान को मानता है अपना आदर्श

deepti-sarna-stalker-devendra

गाजियाबाद की स्नैपडील कर्मचारी दीप्ति सरना को अगवा करने वाला आरोपी देवेन्द्र कुमार अब लेखक बनना चाहता है। वह अपनी लव स्टोरी पर किताब लिखना चाहता है। यह किताब उसके और दीप्ति के प्यार पर आधारित होगी। हालांकि वह उससे एकतरफा प्यार करता था, उसकी कहानी को वह उपन्यास की शक्ल देना चाहता है।

खबर है कि देवेन्द्र कुमार चंगेज खान और हिटलर को अपना आदर्श मानता है। पहले भी जब उसे जेल हुई थी तो वह वहां हिटलर की मशहूर आत्मकथा 'मीन कैम्फ’ पढ़ा करता था। वह अभी डासना जेल में बंद है।

बताया जा रहा है कि देवेन्द्र जेल में दूसरे कैदियों से घुल मिल गया है और आराम से रह रहा है। दूसरे कैदियों से जब उसकी बात होती है तो वह कहता है कि वह अपने दीप्ति के प्रति इश्क को एक कहानी के रुप में लिखना चाहता है ताकि हर कोई जान सके कि वह उसे किस तरह प्यार करता था।

जैसा कि पहले खुलासा हो चुका है कि देवेन्द्र कुमार ने दीप्ति को अगवा किया था। उससे पहले वह उसका एक साल तक पीछा भी करता रहा था। उसपर तीन हत्या के मामले चल रहे हैं। जबकि देवेन्द्र पर तीस से अधिक आपराधिक केस हैं। वह हरियाणा के कामी गांव का रहने वाला बताया जा रहा है।

देवेन्द्र ने जेल प्रशासन से अरुंधति राय की किताब 'द गॉड ऑफ स्माल थिंग्स’ पढ़ने की भी इच्छा जतायी है।

वह शाहरुख खान के 'डर’ फिल्म वाले पात्र से बहुत प्रेरित हुआ था। उसके बाद ही उसने दीप्ति के अपहरण को अंजाम दिया था।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम के लिए अमित कुमार.