Header Ads

सरकारी मानदेय की खबर से वित्तविहीन शिक्षकों में हर्ष

sarkari-teachers-gajraula

माध्यमिक वित्त विहीन शिक्षक महासभा की जिला स्तरीय बैठक में राज्य सरकार द्वारा वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों को मानदेय देने को दो सौ करोड़ रुपये मंजूर करने पर हर्ष जताया तथा इसके लिए सरकार और अपने प्रदेश नेतृत्व का आभार व्यक्त किया।

गजरौला में जय भारत इंटर कालेज में इस संबंध में आयोजित बैठक में जिले भर के वित्तविहीन अध्यापक एकत्रित हुए तथा नये बजट पर वक्ताओं ने अपने-अपने विचार रखे। विधायक प्रतिनिधि शमीम अहमद तुर्क ने कहा कि लंबे समय से की जा रही मांग पूरी होने का हम सभी को हर्ष है। यह अब सुनिश्चित है कि मानदेय जरुर मिलेगा। आगे के लिए हमें संगठन को मजबूत बनाये रखना है। इसके लिए प्रदेश प्रतिनिधित्व का पूरा सहयोग करना है।

मंडल महामंत्री नरेन्द्र कुमार शर्मा ने कहा कि यह विचारणीय है कि हमें यह नहीं बताया गया कि मानदेय कितना मिलेगा? मानदेय प्राप्त करने वाले शिक्षकों की योग्यता क्या होगी? क्या वित्तविहीन स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षित और प्रशिक्षित दोनों तरह के शिक्षक पात्र होंगे या ऐसा नहीं होग? इन सवालों का जबाव भी जरुरी है। सवाल यह भी होगा कि किस वर्ष से मानदेय जारी किया जायेगा? बजट पारित होने के बाद शिक्षा विभाग में पूरा विवरण आयेगा।

सरकार द्वारा वित्तविहीन शिक्षकों के मानदेय को बजट में शामिल करने की खुशी में शिक्षक विधायक संजय मिश्र और प्रदेश कार्यकारिणी को सम्मानित करने का भी फैसला किया गया। साथ ही संगठन को और भी मजबूत बनाये रखने का निश्चय दोहराया गया।

बैठक में डा. राजपाल सिंह, अवनीश कुमार, गिरीश कुमार शास्त्री महामंत्री, रोहताश सिंह, राहुल कौशिक सचिव, डा. शोभित शर्मा ब्लॉक अध्यक्ष, विक्की सिंह मीडिया प्रभारी, सुरेन्द्र गुर्जर, त्रिलोक चन्द शर्मा, सदाकत अली, जाबिर अली, अमित कुमार, शिवकुमार, कृपाल सिंह, नीलम राजभर, रुचि शर्मा, डोली आदि मौजूद थे। अध्यक्षता माहेश्वरी देवी तथा संचालन गिरीश कुमार शास्त्री ने किया।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.