Header Ads

हरियाणा जाट आरक्षण आंदोलन : सेना के वाहन भी कब्जे में लिये, रेलवे स्टेशन को आग लगायी

हरियाणा-जाट-आरक्षण-आंदोलन

हरियाणा में जाट आंदोलन के कारण कई जगह हिंसा और आगजनी हुई है। रोहतक में हालात खराब होने के बाद कर्फ्यू लगाया गया था लेकिन उसके बाद भी हिंसा की खबरें आयीं। झज्जर में फायरिंग में दो लोगों की मौत का समाचार है। जबकि कुल संख्या 4 बतायी जा रही है।

कई जिलों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। स्थिति अभी भी चिंताजनक बनी हुई है।

जींद में बुढ़ाखेड़ा रेल स्टेशन आग के हवाले कर दिया गया है। कैथल में भारतीय जनता पार्टी के सांसद राजकुमार सैनी के घर पर हमला हुआ था।

हिसार में सेना के 11 वाहनों को कब्जे में ले लिया गया था। रास्ते बंद होने के कारण रोहतक में सेना को हेलीकाप्टर के जरिये उतारा गया। कई जगह पथराव और आगजनी की खबरें आयी हैं।

बिगड़ते हालात पर सरकार काबू करने में अभी कामयाब नहीं हो सकी है। सरकार स्थिति पर नजर बनाये हुए है। बैठकों का दौर जारी है।

जाट आंदोलन के बाद रेलगाड़ियों को बंद करना पड़ा है। कई सौ रेलगाड़ियां बाधित हुई हैं। यातायात समस्या के कारण यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जाटों से आंदोलन खत्म करने की अपील की है। मगर आंदोलन थमने का नाम नहीं ले रहा।

कुछ अराजक तत्वों के आंदोलन में घुसने से स्थिति और खराब होती जा रही है।

अखिल भारतीय जाट आरक्षण समिति ने 21 फरवरी से आंदोलन का एलान किया था। लेकिन आंदोलन 14 फरवरी से ही शुरु हो गया था। उस दिन खाप पंचायतों की बैठकों के साथ ही आंदोलन की चिंगारी सुलग गयी।

जाट आंदोलन करने वाले कह रहे हैं कि जबतक उन्हें आरक्षण नहीं मिलता वे आंदोलन जारी रखेंगे।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम के लिए एम.एस. चाहल.