Header Ads

जाट आंदोलन हरियाणा : आरक्षण को लेकर जाट पीछे हटने को तैयार नहीं

जाट-आंदोलन-हरियाणा

हरियाणा में जाट आरक्षण बेकाबू होता जा रहा है। जाट समुदाय आरक्षण को लेकर सड़कों पर उतरा हुआ है। पिछले कई दिन से जाट अपना आंदोलन शांतिपूर्ण तरीके से कर रहे थे, लेकिन आंदोलन ने हिंसक मोड़ ले लिया है। आंदोलन को एक सप्ताह का लगभग समय हो गया है।

रोहतक से खबरें आ रही हैं कि वहां पुलिस की ओर से फायरिंग हुई है जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गयी जबकि 10 लोगों के घायल होने की बात की जा रही है।

सरकार ने इंटरनेट पर रोक लगा दी है।

जाट आंदोलन का असर पूरे हरियाणा में देखने को मिल रहा है। जगह-जगह प्रदर्शन किये जा रहे हैं। सड़कें आदि जाम की जा रही हैं। एक तरह से राज्य की यातायात व्यवस्था चौपट हो गयी है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ जाट नेताओं की वार्ता विफल हो गयी है। बताया जा रहा है कि जाट नेता वार्ता में बीच से ही आ गये थे। उन्हें सीएम की ओर से कोई समझौते वाली बात नागवार गुजरी। वे आरक्षण के सिवा किसी मसले पर चर्चा करने को तैयार नहीं।

जाटों का कहना है कि वे अपनी मांगों के लिए आंदोलन करते रहेंगे।

जाट आंदोलन का असर उत्तर प्रदेश सहित दूसरे राज्यों में भी देखा जा रहा है। अमरोहा के काफूरपुर में भी जाट जल्द आंदोलन करेंगे। उन्होंने इसकी रणनीति भी बना ली है।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम के लिए मोहित सिंह.