Header Ads

'जेएनयू में अफजल गुरु के समर्थन में नारेबाजी करने वालों को सच्चा हिन्दूस्तानी बर्दाश्त नहीं कर सकता'

केन्द्रीय-गृहराज्यमंत्री-किरन-रिजिजू

केन्द्रीय गृहराज्यमंत्री किरन रिजिजू ने कहा है कि जेएनयू विवाद विपक्ष की पार्टियों की वजह से पनपा है। उन्होंने इसे विपक्ष की साजिश करार दिया है।

किरन रिजिजू ने कहा है कि कांग्रेस और वामपंथी ही थे जिन्होंने पूर्व में असहिष्णुता को उठाया था। उसके बाद उनका नया मुद्दा देश को गाली देना है और उसे बदनाम करना है।

रिजिजू आगे बोले कि जेएनयू में अफजल गुरु के समर्थन में नारेबाजी करने वालों को सच्चा हिन्दूस्तानी बर्दाश्त नहीं कर सकता। सरकार कानून के अंतर्गत देश के विरोध में काम करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेगी।

जेएनयू में अफजल गुरु की बरसी के अवसर पर एक कार्यक्रम में देश विरोधी नारेबाजी के आरोप कुछ लेागों पर लगे थे। जेएनयू के छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार को इस सिलसिले में पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसपर विपक्ष ने कहा था कि कन्हैया कुमार को जबरदस्ती पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जिसपर बाद में खूब हो-हल्ला मचा था। वकीलों तक ने कन्हैया समर्थकों और कवरेज करने गये मीडिया कर्मियों से मारपीट की थी।

जेएनयू का मुद्दा देश भर में गर्माता जा रहा है।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम.