Header Ads

ललित अग्रवाल हत्याकांड : खुलासे में विलम्ब माहौल बिगाड़ सकता है

lalit-agarwal-gajraula-murder
प्रतिष्ठित कारोबारी ललित कुमार अग्रवाल के हत्यारों का सुराग न लगने तथा क्षेत्र में बढ़ रहे अपराधों पर गजरौला के गणमान्यों ने गहरी चिंता व्यक्त करते हुए अपराध के खुलासे और अपराधियों को शीघ्र पकड़ने की मांग की है।

इन लोगों का कहना है कि हत्या, अपहरण, लूट, चोरी और दूसरे अपराध बढ़ रहे हैं। उनपर अंकुश न लग पाने से जहां लोग स्वयं को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं, वहीं कानून व्यवस्था से लोगों का भरोसा टूटने लगा है।

लोगों ने आश्चर्य जताया कि दिन ढलते हुए ही युवा व्यापारी को उसके घर के सामने ही गोलियों से भूनने के बाद अपराधी बेखौफ निकल जाते हैं और चन्द कदम थाने पर मौजूद पलिस सप्ताह बाद भी अपराधियों का सुराग तक नहीं लगा पाती।

खुलासा नहीं होने से व्यापारियों में रोष, बाजार बन्द करने की चेतावनी


इससे नगर के लोग भयभीत हैं और उनका कानून व्यवस्था से विश्वास डगमगाने लगा है।

भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी में सामाजिक न्याय मोरचा के सदस्य अशोक कुमार कश्यप, बसपा जिला कोषाध्यक्ष मारुत प्रभाकर, भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष सुरेन्द्र औलख, व्यापारी नेता नवीन गर्ग और मानव अधिकारों के लिए काम करने वाले संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. एलसी गहलौत आदि ने व्यापारी की हत्या पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

'जल्द खुलासा नहीं हुआ तो करेंगे आंदोलन’


साथ ही पुलिस प्रशासन से शीघ्र अपराधियों का पता लगाकर कानून के हवाले करने की मांग की है।

घटना से लोगों में भय तथा रोष का माहौल है। यदि खुलासे में और अधिक विलम्ब हुआ तो लोग पुलिस प्रशासन के खिलाफ सड़कों पर भी उतर सकते हैं।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.