Header Ads

शत्रुघ्न सिन्हा को भाजपा से 'खामोश’ करने की शुरुआत

शत्रुघ्न-सिन्हा-भाजपा-नेता

भाजपा के चर्चित नेता और पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा को भाजपा का युवा मोर्चा 'खामोश’ रहने को कह रहा है। सिन्हा के खिलाफ यह आवाज अब सड़कों तक पर पहुंच गयी है।

भाजपा के युवा मोर्चा की ओर से पटना के जेपी गोलंबर पर एक पोस्टर लगाया गया है जिसपर लिखा है -'कार्यकर्ताओं की मांग है कि शत्रुघ्न सिन्हा को पार्टी से 'खामोश’ किया जाये। कीर्ति के बाद शत्रुघ्न की बारी है।’ पोस्टर युवा मोर्चा के महानगर प्रवक्ता सूरज पांडे और महामंत्री अनिल ने लगवाया बताया जा रहा है।

इससे जो भी हो लेकिन जिन लोगों को शत्रुघ्न का पुराना डायलॉग याद नहीं रहा था, वह फिर ताजा हो गया। जिन्हें पता नहीं था उन्हें पता चल गया।

'कार्यकर्ताओं की मांग है कि शत्रुघ्न सिन्हा को पार्टी से 'खामोश’ किया जाये। कीर्ति के बाद शत्रुघ्न की बारी है।’


शत्रुघ्न सिन्हा पिछले काफी समय से भारतीय जनता पार्टी में हो रही उठापटक को लेकर चर्चा कर रहे हैं। उन्होंने कई बड़े और छोटे नेताओं की खूब आलोचना की है। जब उन्हें मौका मिलता है, वे अपने 'बोलों का तीर' छोड़ देते हैं। उसके बाद भाजपा के दूसरे नेता और उनके विरोधी सुर में शोर करने लगते हैं। इसी शोर शराबे के बीच कुछ दिन की खामोशी के बाद फिर से ऐसा मौका आ जाता है कि शत्रु जाग उठते हैं। वे फिर अपनी नाराजगी जाहिर कर देते हैं।

भाजपा खुलकर बोले या कुछ न कहे, लेकिन अंदरखाने वह नहीं चाहती कि शत्रुघ्न सिन्हा उनकी पार्टी में रहें। वह उनसे किनारा करती रही है। सिन्हा को निकालने की अभी पार्टी ने सोची नहीं है, मगर वह मौके की तलाश में जरुर दिख रही है।

चर्चायें यह भी हैं कि शुरुआत पटना में चौराहे पर लगे उस पोस्टर ने कर दी है।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम के लिए एच.एस. चाहल.