टिकट देने से पूर्व परखे जायेंगे सपा विधायक, मंडी धनौरा तथा नौगांवा सादात भी दायरे में

ashfak-khan-and-m-chandra

कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव ने साफ कर दिया है कि कुछ विधायकों के टिकट कट सकते हैं। इसके लिए हाइकमान ने चार साल के कार्यकाल का चिट्ठा अधिकांश विधायकों का खंगालना शुरु कर दिया है।

समाजवादी पार्टी 2017 में सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी। अभी केवल 143 सीटों पर उम्मीदवार घोषित किये गये हैं। शेष सीटों पर हाइकमान अपने स्तर से छानबीन करा रही है। जांच में खरा पाये जाने वाले तथा दूसरा उम्मीदवार उनसे बेहतर न मिलने पर ही मौजूदा विधायकों को फिर से मैदान में लाया जायेगा।

UP ELECTION 2017 : एम. चन्द्रा के टिकट पर संशय

up-election-2017-samajwadi-party

मुरादाबाद मंडल में बिजनौर जनपद के अलावा बाकी जनपदों के विधायकों का चिट्ठा खंगाला जायेगा। इसमें अमरोहा की मंडी धनौरा तथा नौगांवा सीटों पर खास नजर है।

पार्टी के मुताबिक चार साल के कार्यकाल में जनता के बीच विधायकों की उपस्थिति तथा लोगों के बीच व्यवहार की समीक्षा के साथ विधायकों या उनके परिवार के सदस्यों की आपराधिक गतिविधियों में संलग्नता का भी पता लगाया जायेगा। ऐसे विधायकों का टिकट कटना तय है जो आपराधिक मामलों में विवादित रहे हैं।

विकास कार्यों में कम रुचि लेने या कमीशनखोरी में चर्चित लोगों के भी टिकट कट सकते हैं। हाइकमान अपने स्तर से यह भी पता लगायेगी कि विधायक क्षेत्र में जाते भी हैं या अपने घर पर ही कभी-कभार रजवाड़ों की शैली में दरबार लगाकर लोगों पर रौब जमाते हैं। लोकप्रिय, स्वच्छ छवि, लोगों के बीच सुख-दुख में मौजूद रहने वाले समर्पित विधायकों को टिकट मिलेगा।

पता चला है कि पार्टी संगठन तथा भरोसेमंद अफसरों से भी जानकारी की जायेगी। संगठन में भी फेरबदल होना है। दागी और भ्रष्ट पदाधिकारी किसी भी तरह स्वीकार नहीं होंगे। सपा हर हाल में 2017 के चुनाव को एक बड़ी चुनौती के रुप में ले रही है। पार्टी सुप्रीमो और हाइकमान का फैसला अंतिम होगा।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.

No comments