Header Ads

आरक्षण के लिए खागी समाज ने भरी हुंकार

khagi-samaj-arakshan

खागी समाज के युवा आरक्षण की मांग को लेकर आवाज उठा रहे हैं। उनका कहना है कि खागी समाज को भी पिछड़ा वर्ग की केन्द्रीय अनुसूची में शामिल किया जाये।

हसनपुर के डगरौली गांव में एक बैठक में खागी समाज के युवा भारी संख्या में एकत्रित हुए थे। अधिवक्ता राजेश राणा के अनुसार खागी समाज के कई गांव बदहाल स्थिति में हैं। उनमें मूलभूत सुविधाओं का अभाव आजादी के इतने साल गुजरने के बाद भी बना हुआ है।

खागी समाज के वक्ताओं ने सरकारों पर भी आरोप लगाया कि राजनीतिक लाभ के लिए उनका इस्तेमाल होता रहा, जबकि जीतने के बाद पार्टियों ने उनकी कोई सुध नहीं ली।

nepal-singh-rana-khagi-samaj

इस अवसर पर छात्र नेता नैपाल सिंह राणा ने भी अपने विचार रखे। उन्होंने कहा कि केन्द्र और राज्य में खागी समाज को आरक्षण दिया जाना चाहिए। उपेक्षा का दंश झेल रहे लोगों को उनका हक दिलाने के लिए राणा ने एकजुट होकर संघर्ष करने की बात भी कही।

खागी आरक्षण समिति का गठन जल्द किया जायेगा। इसके लिए रणनीति बनाई जा रही है।

एसडीएम को आरक्षण से संबंधित एक ज्ञापन भी सौंपा गया।

इस अवसर पर खागी महासभा के प्रांतीय महामंत्री गनेशी राणा, केपी सिंह, तेजपाल सिंह, विजेन्द्र सिंह राणा, कैलाश कुमार, जसवीर सिंह, अरविन्द कुमार, कौशल कुमार, नरेश कुमार, रुपचंद सिंह, कपिल सिंह, आदि मौजूद थे।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम हसनपुर.