Header Ads

KSK ACADEMY GAJRAULA : नरेन्द्र और उसके बेटे कई मामलों में विवादित रहे हैं

ksk-academy-narendra-chahal

केएसके अकादमी का संचालन और प्रबंधन नरेन्द्र सिंह चाहल ने अपने छोटे बेटे रिंकू और उसकी पत्नि परमजीत कौर को सौंप रखा है। नरेन्द्र दिल्ली में अपने पुराने स्कूल और दूसरे कारोबार को देख रहा है। कुछ वर्ष पूर्व नरेन्द्र सिंह ने अपनी स्व. माता के नाम से एक एनजीओ बनाया था। उसी एनजीओ के द्वारा यह स्कूल संचालित बताया जाता है। वह एनजीओ एक अल्पसंख्यक धार्मिक संस्था के दायरे में पंजीकृत बताया जाता है।

यह पता चला है कि धार्मिक प्रचार के बहाने बड़े सिख संगठनों और धनी सिख परिवारों से भी नरेन्द्र सिंह द्वारा धन की उगाही की जाती रही है।

स्कूल के पास ही एक गुरुद्वारा बनाकर यह दिखाने का प्रयास किया गया है कि उसकी संस्था धर्म प्रचार के लिए काम कर रही है। जबकि ऐसा यहां कुछ भी नहीं। विदेशों तक से इस काम के लिए पैसा लिये जाने की चरचायें हैं।

पिछले वर्षों में नकली मुद्रा प्रकरण में भी नरेन्द्र तथा उसके बेटों का नाम आया था। फिर क्या हुआ? कुछ भी पता नहीं चल पाया।

लोग चाहते हैं सभी दोषियों को दंड मिले

छात्र दीपेन्द्र की दुखद मौत से लोगों में भारी रोष है तथा वे इस संस्था और उसके मालिकों तथा संचालकों के साथ ही स्टाफ में मौजूद उन तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई चाहते हैं जो इस घटना के लिए उत्तरदायी हैं। इतनी बड़ी घटना के बाद स्कूल से फरार हो जाना और पुलिस को सूचित तक न करना, स्कूल स्टाफ को अपराध के दायरे में लाता है।

दीपेन्द्र हत्याकांड से सम्बंधित ख़बरें पढ़ें :

नरेन्द्र और उसके बेटे कई मामलों में विवादित रहे हैं

छात्र दीपेन्द्र की 'रहस्मय’ हत्या का राज गहराया

पुलिस से सांठगांठ कर सकता है नरेन्द्र

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.