Header Ads

परशुराम जयंती पर समारोह की तैयारी, विप्र बंधुओं को एक मंच पर आने का आहवान

parshuram-jayanti-in-gajraula

भगवान परशुराम जयंती भव्यतापूर्ण मनाने और ब्राह्मण समाज की एकता के लिए ज्ञान भारती इंटर कालेज में एक बैठक का आयोजन किया गया। इस मौके पर विप्र बंधुओं ने ब्राह्मण समाज की एकता को केवल अपने वर्ग ही नहीं बल्कि मानव मात्र के लिए भी सबसे बड़ी जरुरत बताया।

विप्र बंधुओं को सम्बोधित करते हुए पं. हरिदत्त शास्त्री ने कहा कि हम सभी भाईयों को अपने इष्टदेव की जयंती से पूर्व एकता के सूत्र में बंधना होगा। संगठित होकर हम इस समारोह को बेहतर बना सकते हैं। इससे संपूर्ण समाज में बेहतर   संदेश जायेगा।

marut-rajeev-shukla-dharmendra-chaturvedi
पं. मारुत प्रभाकर ने कहा कि हर बार की तरह इस बार भी हम परशुराम जयंती समारोह बहुत ही धूमधाम और श्रृद्धा के साथ मनायेंगे। इस मौके पर भगवान परशुराम के साथ ही ब्राह्मण समाज के सभी महापुरुषों की झांकी प्रस्तुत की जायेगी। जिससे महापुरुषों का परिचय स्वतः प्रकट हो उठे। उन्होंने कहा कि ब्राह्मणों से एकता को प्राथमिकता देते हुए अलग-अलग दलों और संगठनों की सम्बद्धता को दरकिनार करके ब्राह्मणत्व के लिए इस समारोह में बढ़चढ़ कर भाग लेना होगा।

पं. रोहताश कुमार शर्मा ने ब्राह्मणों से आत्मावलोकन का आग्रह करते हुए अपने आचरण में सुधार पर बल दिया। समाज सुधारकों को अपने कर्तव्यों और आचरण की शुद्धता पर सबसे पहले ध्यान देना चाहिए। भगवान परशुराम की भव्य जयंती के आयोजन की सफलता स्वतः संदेश होगी कि ब्राह्मण समाज एक है।

पं. धर्मेन्द्र चतुर्वेदी ने सुप्त प्रायः ब्राह्मण समाज में नयी जान फूंकने के लिए एकता पर बल दिया और युवा पीढ़ी को इस आयोजन से महापुरुषों के महान कार्यों से प्रेरणा लेने का सुअवसर बताया। उन्होंने सभी लोगों का एक मंच पर आने का आहवान किया।

इस मौके पर पं. योगेन्द्र प्रसाद शर्मा, पं. रविभूषण शर्मा, पं. राजीव शुक्ला, योगेश प्रभाकर, पं. नरेश शर्मा, पं. राकेश पाल शर्मा, पं. बौबी शर्मा, पं. शिवशंकर शर्मा, पं. सतीश चन्द भास्कर, पं. महामानव पाठक, पं. जयप्रकाश शर्मा ने भी विचार व्यक्त किये।

बैठक में देवेश शर्मा, नरेश चन्द शर्मा, महेश कुमार शर्मा, ज्ञानदत्त शर्मा, विजयकुमार शर्मा, अशोक शर्मा, अनिल दुबे, विनोद पांडे, श्याम सुन्दर कौशिक, परमेश्वर शर्मा, अखिलेश शुक्ला आदि मौजूद थे। अध्यक्षता पं. जितेन्द्र मोहन शुक्ला तथा संचालन पं. जयप्रकाश शर्मा ने किया।

परशुराम जयंती कार्यकारिणी गठित

समारोह कार्याकारिणी में पं. हरिदत्त शास्त्री, पं. जितेन्द्र मोहन शुक्ला, पं. योगेन्द्र शर्मा, पं. रोहताश शर्मा, डा. आशुतोष भूषण शर्मा, पं. रमेशचन्द शर्मा तथा सतीश चन्द भास्कर शामिल हैं।

मारुत प्रभाकर कार्यक्रम अध्यक्ष बनाये गये जबकि राजीव शुक्ला मंत्री, राकेश शर्मा उपाध्यक्ष और अश्विनी शर्मा को कोषाध्यक्ष मनोनीत किया गया। शोभायात्रा का कार्य रविभूषण शर्मा संभालेंगे। कई अन्य विप्र बंधु इन सभी का सहयोग करेंगे।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.