toilet-in-gajraula

नगर के कई गणमान्यों के साथ ही क्षेत्र के कई बुद्धिजीवी और सामाजिक कार्यकर्ता नगर पंचायत अध्यक्ष हरपाल सिंह से शौचालय और पेशाब घरों की मांग कर चुके लेकिन उनपर कोई फर्क नहीं पड़ता।

यही नहीं पालिका सभासद भी इस ओर से खामोश हैं। केवल सुरेन्द्र औलख और अनिल अग्रवाल ही इस मांग को उठाते रहे हैं, लेकिन दूसरे सभासदों का मौन उनकी आवाज को दबा देता है।

जरुर पढ़ें : लोगों का पालिकाध्यक्ष हरपाल सिंह से बड़ा सवाल : आखिर कब तक खुले में शौच करें?


नागरिकों ने इसके लिए एक बैठक का फैसला लिया है जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तक यह बात पहुंचायी जायेगी कि भाजपा से पालिका अध्यक्ष होने के बावजूद हरपाल सिंह उनके स्वच्छता अभियान को पलीता लगाने में जुटे हैं। सेवाकर पर स्वच्छता सेस लगने के बाद तो उन्हें स्वच्छता अभियान को गंभीरता से लेना चाहिए।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.