swami-prasad-maurya-bsp

चुनाव की आहट से सूबे के नेता एक दूसरे पर हमलावर होने शुरु हो गये हैं। हाल ही में इसी सिलसिले में पत्रकारों से बात करते हुए विधानसभा में विपक्ष के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य सपा पर हमलावर हुए। उन्होंने सूबे की सपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि लूट, हत्या, रेप और डकैती की घटनायें दिन दहाड़े हो रही हैं। प्रदेश में चारों ओर गुंडाराज है। सभी वर्गों का जमकर उत्पीड़न और शोषण जारी है। किसान और मजदूर दुखी हैं। कारोबारी सूबा छोड़कर भाग रहे हैं। जनता बुरी तरह परेशान है। उसे विधानसभा चुनाव का इंतजार है। तभी मौजूदा सरकार को सबक सिखायेगी।

मुरादाबाद सर्किट हाउस में पत्रकारों के बीच बोलते हुए स्वामी प्रसाद ने सपा की जमकर आलोचना की। उन्होंने कानून व्यवस्था की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि महिलाओं और बच्चों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है। लोगों में दहशत का माहौल बन चुका है। चार वर्षों में सपा ने पूरी व्यवस्था चौपट कर दी है। जहां कारोबारी भयभीत और परेशान हैं वहीं किसानों के सामने कई संकट हैं। मौसमी मार से तबाह किसानों के साथ सरकार मुआवजे के नाम पर भौंडा मजाक कर रही है। सौ दो सौ या पांच सौ के चैक थमा कर किसानों के जले पर नमक छिड़का जा रहा है।

मौर्य ने मिल मालिकों और सरकार की सांठगांठ का इशरा करते हुए कहा कि किसानों का पैसा दबाये बैठे मिल मालिको राहत पैकेज दिये जा रहे हैं।

बसपा नेता ने कहा कि जनता गुंडाराज से मुक्ति चाहती है। किसान, कारोबारी, दलित व अल्पसंख्यक सपा से परेशान होकर बसपा पर नजर टिकाये हैं। बसपा ही उसे सुशासन दे सकती है।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम मुरादाबाद.