Header Ads

मौसम बिगड़ने से किसान बेचैन : गेहूं, चना और मटर को भारी नुकसान पहुंचने का खतरा

wheat-in-the-field

पिछले 24 घंटों से उत्तरी भारत के कई राज्यों में गरज के साथ होने वाली बारिश ने किसानों के दिलों की धड़कन तेज कर दी है। पंजाब, हरियाणा तथा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की ओलावृष्टि से किसानों की बेचैनी बढ़ती जा रही है।

इस समय रबी की फसल में गेहूं तथा सरसों की फसल तैयार होने वाली है। लोग गत वर्ष की तरह तैयार फसल की बरबादी की कल्पना कर सिहर उठते हैं। अभी मौसम साफ होने के संकेत नहीं तथा आकाश मेघाच्छादित है।

जरुर पढ़ें : अगले कुछ दिनों में भारत में तेज हवाओं के साथ बारिश, आंधी और ओले की चेतावनी


जम्मू-कश्मीर के मौसम का यहां भी असर

उधर जम्मू-कश्मीर में बीते 24 घंटों से तेज बर्फबारी और वर्षा से मैदानी इलाकों का मौसम और बिगड़ने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता। यदि घाटी के मौसम में सुधार नहीं हुआ तो आगामी एक सप्ताह किसानों के लिए कठिन दौर हो सकता है।

इससे उत्तर प्रदेश, हरियाणा तथा पंजाब में ओलावृष्टि और बरसात होने की संभावना बढ़ जायेगी। इससे गेहूं, चना और मटर को भारी नुकसान पहुंचने से इंकार नहीं किया जा सकता।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम.