Header Ads

रालोद की बेहतर उम्मीदवार हो सकती हैं उर्वशी?

urvashi-amroha

पूर्व जिला पंचायत सदस्य उर्वशी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। वे तथा उनके पति मुकेश चौधरी राष्ट्रीय लोकदल के सक्रिय कार्यकर्ता हैं। मंडी धनौरा एससी, एसटी आरक्षित सीट है। उर्वशी एससी तथा उनके पति ओबीसी वर्ग से हैं। इससे उन्हें दलित और पिछड़ा दोनों वर्गों का लाभ मिलने का भरोसा है।

मुकेश चौधरी का कहना है कि भाजपा-रालोद गठबंधन लगभग तय हो चुका। मंडी धनौरा सीट ऐसा होने पर रालोद के खाते में जायेगी। तब और भी बेहतर रहेगा। उन्होंने दावा किया है कि उर्वशी के पक्ष में जातीय, सामाजिक तथा वर्गीय सभी तरह के समीकरण बन रहे हैं। रालोद हाइकमान को सारी वस्तुस्थिति से अवगत करायेंगे। उन्हें भरोसा है कि उर्वशी को यहां से उम्मीदवार बनाना सबसे बेहतर होगा।

mukesh-chaudhary

उल्लेखनीय है, अभी रालोद-भाजपा गठबंधन अनिश्चय के गर्भ में है। यदि यह गठबंधन परवान चढ़ता है तो यह सीट रालोद के खाते में जाना तय है। उस स्थिति में यहां से उम्मीदवारों की सूची काफी लंबी होगी। यह तभी फैसला होगा कि किसे चौ. अजीत सिंह हरी झंडी देंगे। फिर भी मुकेश चौधरी के उस तर्क में दम है कि उर्वशी यहां के दो बड़े वोट बैंक से जुड़ी हैं और भाजपा से जुड़े वोट उन्हें अतिरिक्त बढ़त प्रदान करेंगे।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम मंडी धनौरा.