Header Ads

जांच में गजरौला का भूजल प्रदूषित

pollution-in-gajraula

क्षेत्रीय नवयुवकों ने औद्योगिक प्रदूषण की अपने स्तर से विशेषज्ञों से जांच करायी। तिगरिया भूड़ के नलों तथा बगद नदी के किनारे के बोरिंग का पानी लेकर जांच की।

नवयुवकों ने बताया कि दोनों स्थानों के जल में सामान्य से बहुत अधिक प्रदूषण पाया गया। यह जल किसी भी तरह पीने योग्य नहीं।

pollution-in-gajraula-1

उन्होंने बताया कि गजरौला में बगद नदी और उसके पास के गांव तिगरिया भूड़ मे पानी की जांच की गयी। जांच में बगद नदी का टीडीएस 4860 एव गांव के पानी का टीडीएस 1446 पाया गया। बताया कि पीने योग्य पानी का टीडीएस 350 होना चाहिए परन्तु ये पानी जहर के सामान है।

pollution-in-gajraula

तिगरिया भूड़ के लोगों ने बताया कि यहां का पानी बीमारियां पैदा करता है। बार-बार जानकारी लेने वाले आते हैं पर कोई भी प्रदूषण नहीं खत्म कराता। नवयुवकों का कहना है कि वे इस बार समस्या का समाधान कराकर ही रुकेंगे। वे जल्दी ही आंदोलन तेज करेंगे।

स्वर्णजीत सिंह, नलिन चौधरी, अनुज भाटी, नमन संधु, नवजोत सिंह, सुमित, गुरवाज, गुरमीत, मुदित, कपिल, अमित चौधरी, सौरभ आदि नवयुवक मौजूद रहे।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.