gajraula-palika-election-2017

पालिका चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवारी के दावेदार यहां बसपा से सबसे बड़ी संख्या में सामने आ रहे हैं। यह चुनाव करीब आने पर पता चलेगा कि पार्टी सिम्बल प्रदान करेगी या नहीं। इस समय विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरु हैं लेकिन पालिकाध्यक्ष के दावेदार अपनी स्थिति का आकलन करने तथा समर्थन पाने की रणनीति में अभी से लगते दिख रहे हैं।

जरुर पढ़ें : सामान्य सीट हुई तो राहुल, रोहताश, आशुतोष तथा अनिल होंगे मैदान में


हम पिछले अंक में चौ. वीरेन्द्र सिंह, रोहताश शर्मा तथा जाफर मलिक का जिक्र कर चुके। ये तीनों बसपा के उम्मीदवार होने का दावा कर रहे हैं। इसके अलावा भी कई ऐसे चेहरे हैं जो बसपा उम्मीदवारी के दावेदार होने का प्रयास करेंगे। ये सभी अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ना चाहते हैं। कई नाम आरक्षण सूची के बाद तब्दील होंगे।

फिलहाल जिला पंचायत सदस्य पति भूपेन्द्र सिंह भी इस दौड़ में शामिल हैं। उनका कहना है कि पार्टी का आदेश होगा तो वे जरुर मैदान में उतरेंगे। उनकी पत्नि वार्ड-10 से जिला पंचायत सदस्य हैं।

साथ में पढ़ें : गजरौला में अध्यक्ष पद के दावेदार सूंघने लगे संभावनायें


बसपा के पूर्व लोकसभा क्षेत्र प्रभारी देवेन्द्रपाल उर्फ गुड्डू भी पालिकाध्यक्ष का चुनाव लड़ने वालों में हैं। वे बसपा के विधानसभा क्षेत्र प्रभारी और नगर पंचायत के सभासद भी रह चुके हैं। बसपा के पुराने तथा विश्वसनीय नेताओं में उनका नाम लिया जाता है। उनका कहना है कि पार्टी का आदेश होगा तो वे उसे सिर माथे पर लेकर मैदान में दस्तक देंगे।

पिछली बार कुछ राजनीतिक मोहरों के षड़यंत्र का शिकार होकर चुनाव हारे कैलाश चन्द एक बार फिर से मैदान में आ सकते हैं। वे इस बार बसपा में हैं और समय आने पर अगला कदम उठायेंगे। फिलहाल वे विधानसभा चुनाव की तिकड़म में हैं। यदि बात नहीं बनी तो पालिकाध्यक्ष का चुनाव लड़ेंगे।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम गजरौला.