Header Ads

चिकारा के मनोनयन से सपा में मिलीजुली प्रतिक्रिया

jitendra-yadav-rahul-kaushik-farukh

अमरोहा जिले के एक और सपा नेता मनवीर सिंह चिकारा को राज्यमंत्री की बराबरी दिये जाने का जहां अधिकांश सपा नेताओं ने स्वागत किया है वहीं कुछ लोगों ने दूसरे योग्य नेताओं की उपेक्षा पर निराशा जताई है।

पूर्व जिलाध्यक्ष डा. जितेन्द्र यादव ने कहा है कि वे पार्टी के सभी फैसलों का हमेशा सम्मान करते रहे हैं तथा इससे भी सहमत हैं। फिर भी कहना चाहते हैं कि उनसे मुख्यमंत्री ने कई बार कोई महत्वपूर्ण पद देने का वादा किया लेकिन वादा पूरा नहीं हुआ। इससे वे निराश तो हैं लेकिन अनुशासित कार्यकर्ता होने के कारण हाईकमान के सभी आदेशों का पालन करते रहेंगे।

जरुर पढ़ें : मनवीर चिकारा बने अमरोहा से चौथे मंत्री


अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव उमर फारुख सैफी ने इसे पार्टी के हित में बताया है। साथ ही कहा कि बसपा की ओर जा रहे जाट मतदाता अब सपा के साथ आयेंगे।

राहुल कौशिक लंबे समय से किसी बड़े पद के दावेदार थे. उन्हें एमएलसी बनाये जाने का भरोसा था.


वरिष्ठ सपा नेता राहुल कौशिक ने बताया कि उन्हें इस बारे में कोई पता नहीं, पता करके वे प्रतिक्रिया जाहिर करेंगे। जबकि उनके एक समर्थक ने कहा कि इससे सपा को लाभ मिलेगा। उन्हें इस खबर का पता अपरान्ह दो बजे ही लग गया था।

उल्लेखनीय है कि राहुल कौशिक लंबे समय से किसी बड़े पद के दावेदार थे। उन्हें एमएलसी बनाये जाने का भरोसा था। जब 11 नामों की सूची में उनका नाम नदारद था तो वे निराश हुए और प्रदेश कार्यकारिणी से भी इस्तीफा दे दिया था।

अब चिकारा को कृषि रक्षा अनुसंधान विभाग का सलाहकार बनाये जाने से वे स्वयं को और भी उपेक्षित समझेंगे। डा. जितेन्द्र यादव भी इसी तरह सोच रहे हैं। उनका कहना है कि जाट मतदाता तो बसपा के साथ जुड़ रहे हैं। इस कदम का कोई लाभ नहीं मिलेगा।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम अमरोहा.