Header Ads

सांसद के गोद लिये गांव चकनवाला की बिल्कुल नहीं बदली तस्वीर

kanwar-singh-tanwar-amroha

भाजपा सांसद कंवर सिंह तंवर का गोद लिया गांव चकनवाला विकास में वहीं खड़ा है, जहां दो वर्ष पूर्व सांसद ने गोद लिया था। ग्रामीणों का कहना है कि इन दो वर्षाें में रास्तों, नालियों, शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता या विद्युत आदि में रत्ती भर भी बदलाव नहीं आया। लोगों के बार-बार अनुरोध के बावजूद चुनाव के बाद सांसद ने इधर आना भी गवारा नहीं किया। वे एक बार कुछ घोषणायें जरुर कर गये थे, जो शत प्रतिशत हवा-हवाई साबित हुईं।

गंगा के खादर क्षेत्र का यह गांव विकास खंड मंडी धनौरा में पड़ता है। जहां से विकास खंड तक जाने के लिए कोई अच्छी सड़क भी नहीं। गांव वालों का कहना है कि बिजली की किल्लत यहां सबसे विकराल है। मामूली खराबी को ठीक कराने के लिए गजरौला के कई-कई चक्कर लगाने पड़ते हैं। जो गांव से 15 किलोमीटर दूर पड़ता है।

5 जून को एक खंभा टूटने से गांव की विद्युत आपूर्ति ठप्प हो गयी। जब आठ दिन तक कोई सुनवाई नहीं हुई तो गांव के लोग एकत्र होकर गजरौला में बिजलीघर पर पहुंचे। वहां प्रदर्शन किया। खाली आश्वासन के अलावा कुछ भी नहीं हुआ। विधायक एम. चन्द्रा के पास गये तो उन्होंने यह कहकर टरका दिया कि गांव सांसद का है उन्हीं से बात करो। सांसद तो विदेशों में रहते हैं। उनके दर्शन दुर्लभ हैं।


गांव को मॉडल गांव बनाने का सपना दिखाकर एमपी साहब गायब हैं और स्कूल की भूमि पर कुछ दबंगों ने कब्जा करना शुरु कर दिया है। जल निकासी और रास्ते अस्तव्यस्त होने से यहां के लोगों का जीवन दूभर हो गया है। दो वर्षों से किसी भी तरह की विकास योजना का इस गांव को उचित लाभ नहीं मिला।

पीने के स्वच्छ जल तक का अभाव है। यहां अपर्याप्त हैंडपंप हैं। उनके बोरिंग कम गहरे होने के कारण स्वच्छ जल नहीं मिल रहा। इससे लोग बीमार हो रहे हैं।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम मंडी धनौरा.