rajeev-tarara-khadar

मंडी धनौरा विधानसभा क्षेत्र के गांव सैरकपुर में आयोजित एक समारोह में जिला पंचायत सदस्य तथा युवा भाजपा नेता राजीव तरारा ने भारत की सांस्कृतिक विरासत पर विचार व्यक्त करते हुए कहा कि भगवदगीता लोक और परलोक दोनों ही स्थानों के लिए हमारी मार्गदर्शक और उद्धारक है। कर्मयोग की जिस शिक्षा को यहां भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन को दिया है वह अद्वितीय और भवसागर से पार पाने का सर्वोत्तम साधन है।

राजीव तरारा सक्रिय रुप से लंबे समय से आरएसएस के सक्रिय कार्यकर्ता हैं। वे हिन्दुत्व के राष्ट्रवादी तत्व का साक्षात्कार मौजूद लोगों से कराते हुए बोले कि गौ और गंगा हमारे देश की सांस्कृतिक पहचान और शक्ति है। भारतीय संस्कृति का अस्तित्व इसके बिना असंभव है।

rajeev-tarara-sairakpur

गांव में भगवदगीता के पाठ के समापन पर बोलते हुए तरारा ने विस्तार से उसके महत्व पर प्रकाश डाला तथा अपने जीवन को मौजूद लोगों से उसके अनुसार ढालने का आग्रह किया।

इससे पूर्व राजीव तरारा ने क्षेत्र के कई गांवों का भ्रमण कर भाजपा की जनहितैषी नीतियों की विस्तार से जानकारी की। उन्होंने केन्द्र की भाजपा सरकार के दो वर्षीय कार्यकाल की उपलब्धियों का सिलसिलेवार वर्णन किया तथा निकट भविष्य में गांव, गरीब, किसान और मजदूर के हित में किये जाने वाले कार्यों की भी जानकारी दी। उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को भारी बहुमत दिलाने की भी अपील की। उनके साथ उनकी युवा टीम के कई सदस्य मौजूद थे। उन्हें सुनने के लिए सभी गांवों में बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

-गजरौला टाइम्स डॉट कॉम मंडी धनौरा.