Header Ads

गंगा का बढ़ता जलस्तर : पता नहीं कब बाढ़ का पानी आ जाये

ganga-flood-tigri-gajraula
पहाड़ी क्षेत्रों में बारिश हो रही है. उसका असर मैदानी इलाकों में देखा जा रहा है. बिजनौर में तो बाढ़ जैसे हालात पहले ही पैदा हो गये थे.

पहाड़ों पर लगातार हो रही बारिश से गंगा का जलस्तर बढ़ता जा रहा है। अनुमान लगाया जा रहा है कि पानी में अभी और इजाफा होगा। गंगा खतरे के निशान के करीब पहुंच रही है, लेकिन संबंधित अधिकारियों का मानना है कि ऐसा हर साल होता है। अभी खतरे का निशान काफी दूर है।

पहाड़ी क्षेत्रों में बारिश हो रही है। उसका असर मैदानी इलाकों में देखा जा रहा है। बिजनौर में तो बाढ़ जैसे हालात पहले ही पैदा हो गये थे। वहां कई गांव इसकी चपेट में आये हुए हैं। वहीं अमरोहा जिले में भी गंगा के आसपास के क्षेत्र में बाढ़ जैसे हालात बन सकते हैं।

ganga-flood-gajraula-tigri

हरिद्वार और बिजनौर बैराज से पानी लगातार छोड़ा जा रहा है। तिगरी में गंगा किनारे बनी झोपड़ियां डूब गयी हैं। कई जगह से कटान के भी समाचार मिल रहे हैं। पानी बहुत गति से किनारों को काट रहा है। कई जगह से भूस्खलन की भी खबर है। गंगा का बढ़ता जलस्तर चिंता का विषय बना हुआ है। गंगा के आसपास रहने वाले लोग अपने स्तर से सुरक्षा के बंदोबस्त कर रहे हैं। लोग इस चिंता में भी हैं कि पता नहीं कब बाढ़ का पानी आ जाये।

शासन की ओर से सभी बाढ़ चौकियों पर तैनात कर्मचारियों को खास हिदायत दी गयी है कि वे चौकन्ने रहें और पल-पल की जानकारी पहुंचायें। वो अलग बात है कि कर्मचारी और अधिकारी अपनी सुस्ती के कारण हर साल बदनाम होते आये हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन करें ...