Header Ads

गजरौला में दिनदहाड़े चोरी की ताबड़तोड़ घटनायें

apradh-chori-loot
इन घटनाओं का खुलासा न होने से चोरों के हौंसले बुलंद हैं तथा वे ऐसे स्थानों पर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं जहां थाना या पुलिस चौकी करीब हो.

नगर में दिन दहाड़े चोरी की घटनाओं में इजाफे से लोगों में असुरक्षा की भावना बढ़ रही है। इन घटनाओं का खुलासा न होने से चोरों के हौंसले बुलंद हैं तथा वे ऐसे स्थानों पर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं जहां थाना या पुलिस चौकी करीब हो। सितम्बर माह में एक शिक्षिका के घर दिन दहाड़े हुई 12 लाख की चोरी का अभी तक खुलासा नहीं हुआ। इसी से उत्साहित चोरों ने उसके बाद एक दिन में एक शिक्षक तथा मीट कारोबारी के घर दिन दहाड़े खंगाल दिये और चार लाख से अधिक का माल नकदी समेत ले गये। ये दोनों घटनायें भी शिक्षिका के घर के पास के घरों में ही हुईं। जबकि एक अन्य शिक्षिका और जैकेट निर्माता के वर्कशाप दूसरे मोहल्ले में हैं। वहां शिक्षिका के घर दिन दहाड़े जबकि दूसरी घटना को रात में अंजाम दिया गया।

सात सितंबर को दिन दहाड़े विजयनगर मोहल्ले में नगर के चेयरमेन हरपाल सिंह के घर के सामने शिक्षिका रेखा रानी के मकान से चोरों ने उस समय बारह लाख का सामान नकदी समेत साफ कर दिया जब वे स्कूल में थीं। बच्चे भी पढ़ने गये थे और उनके पति देवेन्द्र सिंह अपनी सरकारी ड्यूटी पर थे। इस घटना के लगभग एक माह तक खुलासा न होने पर अध्यापकों ने पुलिस पर एकजुट होकर खुलासे का दबाव बनाया था। अभी तक इस दिशा में कुछ नहीं हुआ।

इसके बाद अक्टूबर माह में लक्ष्मी नगर में एक टीचर सीमा यादव के घर से चोर दिन दहाड़े कई लाख का माल ताले तोड़कर ले गये। शिक्षिका, उनका पति तथा बच्चे घर नहीं थे। इसके बाद चेयरमेन हरपाल सिंह के घर के सामने विजयनगर में चोरों ने एक मीट कारोबारी और एक अध्यापक के सूने घरों के ताले तोड़कर दिनदहाड़े चार लाख से अधिक का माल साफ कर दिया। मीट कारोबारी रियाजुद्दीन उर्फ राजा के नलों की टोटियां तक उखाड़कर चोर ले गये। अध्यापक संजीव भी मकान का ताला लगाकर ड्यूटी गये थे। ये दोनों घटनायें एक ही मोहल्ले में दिनदहाड़े एक साथ रेखा रानी के उस मकान के पास ही हुईं जहां से सात अक्टूबर को चोर बारह लाख का माल ले उड़े थे।

नगर के चेयरमेन के घर और थाने के पास दिनदहाड़े वारदात कर पकड़ से बाहर रहने वाले अपराधी पुलिस को यह संदेश देना चाहते हैं कि हम तुम्हारी नाक के नीचे खुलेआम अपराध कर सकते हैं, पकड़ सकते हो तो पकड़ कर दिखाओ। पुलिस रातभर सड़कों पर भागती भी है, लेकिन चोर तो दिन के उजाले में आबादी के बीच अपराध कर रहे हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...