Header Ads

मायापुरी और चौहानपुरी में कच्ची शराब का कारोबार

wine-shop-gajraula
महिलाओं की सुरा विरोधी मुहिम मोहल्ले वासियों और पुलिस की उपेक्षा के कारण दम तोड़ गयी.

दो मोहल्लों में अवैध शराब का कारोबार धड़ल्ले से जारी है। शराब सहित कुछ युवकों को चौहानपुरी के लोगों ने पुलिस को पकड़वाया तो पुलिस ने थोड़ी देर बाद उन्हें छोड़ दिया। आरोप है कि अवैध शराब के कारोबारी उन्हें पकड़वाने वाले लोगों को किसी केस में फंसवाने की धमकी दे रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि चौहानपुरी और मायापुरी मोहल्ले एक-दूसरे से मिले हैं। जहां कुछ लोग दशकों से अवैध शराब के धंधे में संलग्न हैं। त्योहारों आदि के मौके पर आबकारी विभाग पुलिस के साथ यहां से दो-चार लोगों को पकड़ कर औपचारिकतावश मामूली धाराओं में चालान करती है। ये लोग साथ ही जमानत ले कर मामला खत्म करवा लेते हैं। और फिर से उसी धंधे में लग जाते हैं।

कई बार यहां शराब पीकर झगड़े होने और महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले भी प्रकाश में आते रहते हैं। एक बार मोहल्ले की महिलाओं ने यहां हो रहे अवैध शराब के धंधे के खिलाफ एकजुट होकर विरोध भी किया था तथा ऐसे लोगों का बहिष्कार करने का भी फैसला किया लेकिन न तो पुलिस और न ही मोहल्ले के लोगों ने उनका साथ दिया जिससे महिलाओं की सुरा विरोधी मुहिम शुरु होते ही दम तोड़ गयी।

खास वजह यह है कि धंधे से जुड़े लोग असामाजिक तत्व हैं और वे पैसे के बल पर कुछ सफेदपोश नेताओं और पुलिस से सांठगांठ रखते हैं। शराब के धंधेबाजों, भ्रष्ट सफेदपोशों और पुलिस के नापाक गठजोड़ के आगे सभी ताकतें दम तोड़ गयी हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...