Header Ads

मिल वाले बढ़ा रहे गन्ना किसानों की परेशानी

sugarcane-mill-india
मलेशिया गांव के वेब चीनी मिल की बात करें तो वहां कहा जा रहा है कि सभी मशीनरी अपडेटिड हो चुकी है, लेकिन तकनीकी खामियां आ रही हैं.

किसान परेशान है। पहले उसके गन्ने का उचित मूल्य उसे नहीं मिल रहा, दूसरा पेराई शुरु होते ही चीनी मिलों की मशीनें क्षमता के अनुसार काम नहीं कर रहीं। कारण बताया जा रहा है कि मशीनों में दिक्कतें आ रही हैं। इस कारण गन्ने की तौल प्रभावित हो रही है।

मंडी धनौरा के मलेशिया गांव के वेब चीनी मिल की बात करें तो वहां कहा जा रहा है कि सभी मशीनरी अपडेटिड हो चुकी है, लेकिन तकनीकी खामियां आ रही हैं। अस्सी हजार कुंतल प्रतिदिन की क्षमता वाला चीनी मिल, केवल चालीस से पचास हजार कुंतल पेराई कर रहा है। यानि आधी पेराई हो रही है। इससे गन्ना किसानों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है। समय की बर्बादी हो रही है तथा पेमेंट में भी दिक्कत आ रही है। चीनी मिल के करीब अमरोहा मार्ग पर जाम की स्थिति बन रही है। गन्ना लदे वाहन दूर सड़क तक खड़े होते हैं जिससे यातायात प्रभावित होता है।

चीनी मिल प्रबंधन अव्यवस्था का ठीकरा मशीनों पर फोड़ रहा है, जबकि पेराई से पूर्व ही सभी मशीनों की जांच-परख कर ली जाती है।

अमरोहा जिले के लगभग सभी मिलों में किसानों को कोई न कोई समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...