Header Ads

कार्तिक पूर्णिमा पर तिगरी मेले में जुटे 15 लाख श्रद्धालु : गंगा स्नान शांतिपूर्ण सम्पन्न होने से आयोजकों ने ली राहत की सांस

tigri-mela-gajraula-ganga
अचानक सरकार द्वारा बंद किये पांच सौ और हजार के नोटों की वजह से बाजार पर असर पड़ा. छोटे नोट खत्म होने पर कई लोग जरुरी चीजें और खाद्य सामग्री नहीं खरीद पाये.

इस बार टोल मुक्त हुए गंगा मेले में करीब 15 लाख लोगों ने गंगा में डुबकी लगाकर लोक और परलोक सुधार की उम्मीद जतायी। मेला छुटपुट प्रकरणों को छोड़कर बहुत ही शांति और सौहार्द के साथ संपन्न हुआ। इसके लिए जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू चौधरी के समर्थक जहां उन्हें बधाई दे रहे हैं। वहीं आम आदमी मेला प्रबंधन में जुटी पुलिस और प्रशासन को इसका श्रेय दे रहा है। इस बार जेबकतरों, मनचलों तथा चोरों को अपना कमाल दिखाने का बहुत ही कम मौका मिला।

tigri-mela-ganga-gajraula

श्रद्धा के साथ सुरा का सेवन करने वालों की कमी नहीं थी। लोग मेला आने से पूर्व मंडी धनौरा, गजरौला, जोया या हसनपुर जहां से भी गुजरने पीने का प्रबंध करके ही आगे बढ़े। इन स्थानों पर ग्राहकों की भारी भीड़ रही। इस काम में नकदी की समस्या न तो खरीददारों के और न ही बिक्रेताओं के आड़े आयी। लोगों ने समझदारी और खामोशी के साथ सफर और तंबुओं में श्रद्धा के साथ सुरा का आनंद उठाया। पुलिस प्रशासन ने भी ऐसे महानुभावों के काम में दखल नहीं दिया। युवा पीढ़ी ने पिकनिक और श्रद्धा का संगम स्थल तिगरी को बनाने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी।

चार-पांच दिन चले मेले में दुघर्टनाओं का औसत भी सामान्य से आगे नहीं गया। लोग सकुशल तीर्थ कर सकुशल अपनों के बीच लौट आये। अखबारों में छपी 'मेले पर आतंक का साया’ खबर भी उन्हें नहीं रोक पायी बल्कि गत वर्ष से कई लाख अधिक लोगों ने गंगा स्नान का पुण्य प्राप्त किया।

अचानक सरकार द्वारा बंद किये पांच सौ और हजार के नोटों की वजह से बाजार पर असर पड़ा। छोटे नोट खत्म होने पर कई लोग जरुरी चीजें और खाद्य सामग्री नहीं खरीद पाये। कई दुकानदार मायूस नजर आये। पूर्णिमा से एक दिन पूर्व मेले में रौनक बढ़ी। कुछ लोग मेले में वापस जाकर बैंकों से पैसे लेकर मेले में अपनों के बीच आ गये थे। जिससे लोगों की क्रय शक्ति बढ़ गयी और दुकानदारों का काम गति पकड़ गया।

-टाइम्स न्यूज़ तिगरी


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...